धूम-धाम से मनेगी बिहार कला दिवस

1560
0
SHARE

पटना: पूरे राज्य में एक साथ बिहार कला दिवस मनाने की तैयारियां पूरी हो गई है। कला, संस्कृति एवं युवा विभाग दूारा इस संबंध में आवश्यक बजट और निर्देश जिले को उपलब्ध करा दिए गए है। विदित है कि बिहार की सांस्कृतिक पहचान के रुप में विश्व सिटी में मिली थी। 18 अक्टूबर को यक्षिणी की प्राप्ति की तिथि के 100 साल प्रारंभ होने पर 5 फीट 2 इंच की काले बलुआही पत्थर से बनी यह प्रतिमा स्त्री सौंदर्य के प्रतिक रुप में याद की जाती है।

18 अख्टूबर को बिहार कला दिवस की शुरुआत पटना से होगी। राजधानी में इस अवसर अधिवेशन भवन में भव्य कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। कार्यक्रम में विख्यात लोकगीत गायिका शारदा सिन्हा का गायन, नीलम चौधरी के निर्देशन में लोकनृत्य की प्रस्तुति होगी। बिहार कला दिवस की शुरुआत बिहार कला पुरस्कार 2015-16 एवं 2016-17 के वितरण से होगी। माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव कलाकारों को सम्मानित करेंगे। समारोह की अध्यक्षता शिवचंद्र राम कला मंत्री, कला संस्कृति एवं युवा विभाग बिहार करेंगे। इस संबंध में संबंधित कलाकारों को सूचना भेज दी गई है।

मुख्य कार्यक्रम के उपरांत वर्ष भर इसके आयोजन को सफल बनाने की कोशिश अलग-अलग निदेशालयों दूारा की जाती रहेगी। विदित है कि बिहार कला दिवस की शुरुआत देश के लिए अनुकरणीय होगी।