निगरानी अन्वेषण ब्यूरो के हत्थे चढ़ा रिश्वतखोर सीनियर ADM

548
0
SHARE

शेखपुरा- जिले में रिश्वत लेने वाले सरकारी अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ निगरानी अन्वेषण ब्यूरो का ऑपरेशन लगातार जारी है। इस बार निगरानी के जाल में एक बड़ी सरकारी मछ्ली फंसी। शेखपुरा जिला के सीनियर ADM सह जिला भू अर्जन पदाधिकारी मो. कामिल अख्तर को निगरानी की टीम ने रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा। जिस वक्त टीम ने छापेमारी की, उस दौरान वो 10 हजार रुपए रिश्वत ले रहे थे।

जन शिकायत कोषांग पदाधिकारी कामिल अख्तर को निगरानी की टीम ने शेखपुरा के वीआईपी रोड स्थित सरकारी आवास से ही गिरफ्तार किया गया है। पटना स्थित निगरानी हेडक्वार्टर में बरबीघा के फैजाबाद गांव के रहने वाले भोला प्रसाद ने शिकायत की थी। दरअलस, सरकारी परियोजना को पूरा करने के लिए भोला प्रसाद की जमीन का शेखपुरा जिला प्रशासन की तरफ से अधिग्रहण किया गया था।

अधिग्रहण की गई जमीन का भुगतान करने के लिए सीनियर ADM ने 12 हजार रुपए की डिमांड की थी। निगरानी के अधिकारियों ने इस मामले को गम्भीरता से लिया. डीएसपी पारसनाथ सिंह की अगुआई में एक टीम बनाई गई. टीम ने पहले अपने लेवल पर मिले शिकायत की जांच की।

जिसमे पूरा मामला सही पाया गया। इसके बाद ही शुक्रवार को छापेमारी की गई और फिर रंगे हाथ रिश्वत लेते हुए अरेस्ट कर लिया।  अभी सीनियर ADM से निगरानी टीम पूछताछ कर रही है। इसके बाद पटना के निगरानी कोर्ट 2 में पेश किया जायेगा।