नीतीश एनडीए में वापस आए तो नेतृत्व में काम करने को हूं तैयार: मांझी

566
0
SHARE

मुजफ्फरपुर: बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और हम पार्टी के संयोजक जीतन राम मांझी ने मंगलवार को कहा कि अगर सीएम नीतीश कुमार एनडीए में वापस आते हैं और अपनी भूल स्वीकार करते हैं तो उनका नेतृत्व जीतन राम मांझी स्वीकार करेंगे। बिहार के मुजफ्फरपुर के कांटी में पार्टी द्वारा आयोजित धिक्कार रैली को संबोधित करने के बाद पत्रकारों से बातचीत में मांझी ने कहा कि वो सत्ता की आश में नीतीश के साथ जा सकते हैं।

लालू और नीतीश के गठबंधन को बेमेल बताते हुए मांझी ने कहा कि नीतीश ने सत्ता के लिए जबकि लालू परिवार को स्थापित करने के लिए गठबंधन किया है। मांझी ने कहा कि नीतीश कुमार महागठबंधन की सरकार में बेइज्जत होकर सीएम की कुर्सी पर बने हुए हैं। सरकार के कई विभागों के विज्ञापन में सीएम का नाम तक नहीं हैं और वे चुपचाप बैठे हुए हैं।

जीतनराम मांझी ने कहा कि पिछले विधानसभा चुनाव में आरक्षण और बीफ जैसे मामलों में जनता को भरमा कर सरकार बनाई गई। उन्होंने नीतीश सरकार को किसान और मजदूर विरोधी सरकार बताते हुए हरेक प्रमंडल में धिक्कार रैली करने की घोषणा की है।

इससे पहले कांटी में हम कार्यकर्ताओं ने रोड शो भी निकाला जिसमें जीतन राम मांझी समेत हम के तमाम नेताओं ने भाग लिया। धिक्कार रैली को संबोधित करते हुए एकतरफ पूर्व सीएम ने खुद के सीएम रहते नीतीश कुमार के पास सत्ता की चाबी रहने की बात कहकर लोगों से व्यवस्था परिवर्तन के लिए एकजुट होने की अपील की।

मांझी ने कहा कि विधि वयवस्था समेत विकास के तमाम कामों में छात्रवृति से लेकर एस्टीमेट घोटाला हो रहा है और किसान मजदूरों के हितों की अनदेखी हो रही है। हम नेता अजीत कुमार ने सरकारी कार्यालयों में व्याप्त भ्रष्टाचार को भी इस मौके पर लोगों के बीच रखा।