नीतीश सरकार में तार-तार हो रही महिलाओं की इज्‍जत : अनिल कुमार

135
0
SHARE

पटना : जनतांत्रिक विकास पार्टी द्वारा सीवान में कांस्टेबल स्नेहा कांड के उद्भेदन और सीबीआई से जांच की मांग को लेकर आज पटना के गर्दनीबाग स्थित धरना स्‍थल पर एकदिवसीय धरना का आयोजन का आयोजन किया। इस दौरान पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अनिल कुमार भी मौजूद रहे हैं, जिन्‍होंने राज्‍य की नीतीश सरकार और मोदी सरकार की बेटी बचाओ – बेटी पढ़ाओ की बात पर जमकर हमला बोला। उन्‍होंने कहा कि नीतीश सरकार महिला सशक्तिकरण की सिर्फ बात करती है, लेकिन आज प्रदेश में महिलाओं की इज्‍जत तार – तार हो रही है और इसमें अब शासन प्रशासन के लोग भी अब शामिल हो गए हैं।

अनिल कुमार ने कहा कि सीवान में एसपी ही अपने महकमे की महिला पुलिस कर्मी स्‍नेहा को गायब कर दिया और उसकी जगह मुंगेर में एक बूढ़ी महिला का लाश स्‍नेहा के घर भेज दिया गया। और कहा गया कि उसने आत्‍महत्‍या की है। लेकिन इस मामले में कई ऐसे सवाल हैं, जिसका जवाब देने से प्रशासन कतरा रही है। लेकिन हम इस मामले के उद्भेदन और सीबीआई जांच के बाद स्‍पीडी ट्रायल के जरिये दोषियों को सजा दिलाने की मांग करते हैं।

अनिल कुमार ने महिला आरक्षी एकता पर सवाल खड़े किये और कहा कि बिहार की महिला आरक्षी में एकता की भारी कमी है। प्रमाण सामने है सिवान जिला महिला आरक्षी स्नेहा कुमारी को सिवान एसपी ने अपहरण किया या बलात्कार कर हत्या करके लाश गायब कर दिया। ये बात उसके परिजन को अभी तक पता नही।जबकि बंदूक के नोक पर मुंगेर एसपी,डीएसपी और एसडीओ ने एक 60 साल की बूढ़ी महिला का लाश लेजाकर जबरन मारपीट करके और लोगों को हिरासत में लेकर दाह संस्कार करा दिया। जबकि परिजन रोते, बिलखते और चिल्लाते रहे,गुहार लगाते रहे कि ये मेरी स्नेहा बेटी नही है, वह किस हाल में है, कहाँ है, कैसी है हमें हमारी बेटी सिवान एसपी और नीतीश सरकार लौटा दें। लेकिन सबकी संवेदनाएँ मर चुकी है, पूरी सरकार एक घृणित मानसिकता वाले हत्यारे और बलात्कारी एसपी के सामने नतमस्तक है।

उन्‍होंने कहा कि यदि महिला आरक्षी में एकता रहता और अपने सहकर्मी को न्याय दिलाने के लिए काम छोड़कर सड़क पर बैठती और हाई कोर्ट के निगरानी में सीबीआई जाँच की माँग करती और सीबीआई जाँच होती। अभी भी समय है बिहार की महिला आरक्षी अपनी चट्टानी एकता का परिचय देते हुए काम का बहिष्कार कर स्नेहा कुमारी को न्याय दिलावें ताकि फिर कोई दूसरा स्नेहा किसी का शिकार नही हो सके।

उन्‍होंने कहा कि नीतीश सरकार की हद हो गई है। हम मुख्‍यमंत्री से पूछना चाहते हैं कि आपके सुशासन को क्‍या हो गया है? प्रदेश में राजे चोरी, डकैती, छिनतई, बलात्‍कार, लूट की घटनाओं में तेजी बढ़ोत्तरी हुई है। कानून व्‍यवस्‍था की खराब स्थिति से प्रदेश की जनता दहशत में है, क्‍योंकि कब, कहां किसकी हत्‍या हो जाये। किसी को नहीं मालूम है। धरना की अध्यक्षता प्रदेश अध्‍यक्ष संजय मंडल तथा मंच संचालन राजकुमार पूर्वे जी ने किया। इस धरना में प्रदेश उपाध्यक्ष – बिंदेश्वरी सिंह ,प्रशांत प्रियदर्शी ,सरोज राजभर ,रामबली महतो ,युवा प्रदेश अध्यक्ष संतोष यादव , तकनीकी प्रकोष्ठ अध्यक्ष रवि प्रकाश ,बिंदेश्वरी शर्मा ,संतोष प्रजापति ,संजय मिश्रा , राजा यादव समेत सैकड़ों लोग उपस्थित रहे।