नेपाली श्रद्धालुओं से भरा ट्रक नहर में गिरा

487
0
SHARE

पटना: बिहार के बाल्मीकि नगर में शनिवार को सुबह नेपाली श्रद्धालुओं से भरा एक ट्रक नहर में जा गिरा। दुर्घटना में एक दर्जन यात्री घायल हो गए, जिनमें छह की हालत नाजुक है। दुर्घटना में सभी लोगों को नहर से सुरक्षित निकाल लिया गया, हालांकि 12 लोग गंभीर रुप से घायल हो गए। जिन्हें प्राथमिक उपचार के बाद नेपाल के चौपरवा स्थित अस्पताल रेफर किया गया है।

घटना सुबह के करीब पौने दस बजे जब हुई जब परसाटाड़ी गांव के समीप जीप से साइड लेने के क्रम में ट्रक नहर में गिर गया। कोहरा के कारण दोनों गाडि़यों ने एक-दूसरे को जबतक देखा, विलंब हो चुका था।

नेपाल के बेलाटांड़ी थाने के इंस्पेकटर महेश्वर उपाध्याय ने बताया कि ट्रक पर सवार नेपाल के सेमरी गोविंदपुर के 35 लोग भारत के वाल्मीकि नगर में स्थित नरदेवी मंदिर में पूजा करने आ रहे थे। नहर में पानी कम होने के कारण सभी यात्रियों को स्थानीय ग्रामीणों की मदद से बाहर निकाल लिया गया।

ट्रक पर अधिकांश महिलाएं थीं। घायलों में निशा चौधरी, हेमा चौधरी, गणेशी कुमारी, सावित्री गुरुंग, उर्मिला चौधरी एवं कांति चौधरी की हालत चिंताजनक है।

वहीं सासाराम में एक ट्रक ने बाइक सवार को रौंद दिया। दुर्घटना में बाइक सवार दो युवकों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। जबकि एक घायल का इलाज स्थानीय सदर अस्पताल में चल रहा है। घायल की हालत नाजुक बताई जा रही है।

पटना के पालीगंज के कुरकुरी पुल के पास आज सुबह ट्रक की टक्कर से बुजुर्ग की मौत हो गई। दानापुर के खगौल ओवरब्रिज पर भी सड़क हादसे में बाइक सवार दो युवकों की मौत हो गई।

बेतिया के शिकारपुर थाना क्षेत्र के कोईरगांवा गांव समीप सरेह में धान का बोझा ढोने गये मजदूर जोगन पासवान ( 60) की विद्युत तार की चपेट में आने से घटनास्थल पर ही मौत हो गई।

बताया जा रहा है कि कोहरे के कारण वह गिरे तार को नहीं देख सका। घटना से आक्रोशित ग्रामीणों ने कोईरगावां के समीप पूरण चौक पर जाम कर दिया। इस कारण नरकटियागंज- बेतिया मुख्य पथ पर करीब एक घंटे से अधिक समय तक आवागमन ठप रहा। सूचना पर पहुंची शिकारपुर पुलिस ने लोगों को समझा कर जाम को खत्म कराया। हांलाकि लोगों में विद्युत विभाग के प्रति खासा आक्रोश बना हुआ है।