न्याय की गुहार

167
0
SHARE

धनंजय झा

बेगूसराय – अपहरण का एक ऐसा मामला प्रकाश में आया है जिसमें मस्जिद में चोरी के आरोप में पहले तो लोगों के द्वारा एक 14 वर्षीय किशोर की हाथ पैर बांधकर पिटाई भी की गई फिर उसे गायब कर दिया गया। इतना ही नहीं इस मामले में उल्टे किशोर के मां पर ही मामला दर्ज कर दिया गया।

बाद में मुंगेर डीआईजी के पहल पर पुलिस ने पीड़िता का मामला दर्ज किया। लेकिन 6 महीने बीत जाने के बाद भी अब तक किशोर का कोई अता पता नहीं है और पीड़िता प्रशासन की दरवाजे खटखटा कर गुहार लगा रही है।

क्या है पूरा मामला

दरअसल बलिया थाना क्षेत्र के लखमीनिया निवासी मोहम्मद शमीम के पुत्र मोहम्मद नासिर को 12 जनवरी को ही मस्जिद में चोरी के आरोप में अपराध प्रवृति के लोगों ने हाथ पैर बांधकर पिटाई की फिर उसे गायब कर दिया और बाद में पीड़ित किशोर की मां सहाना खातून पर ही धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर दिया।

अपहृत किशोर मोहम्मद नासिर की मां ने आरोप लगाया है कि बार-बार बलिया थाने में आवेदन देने के बावजूद भी ना ही उसका मामला दर्ज किया गया और उल्टे गाली गलौज कर थाने से भगा दिया गया। थक हार कर पीड़िता ने जब मुंगेर डीआईजी के यहां गुहार लगाई तब बलिया थाना में शाहना खातून का मामला दर्ज हुआ। लेकिन 6 महीने बीत जाने के बाद भी अब तक मोहम्मद नासिर का कोई अता पता नहीं है और अब उल्टे अपराधियों के द्वारा केस उठाने की धमकी दी जा रही है।

इस मामले में पीड़िता ने मोहम्मद हुसैन, मोहम्मद मेहरबान सहित 10 लोगों पर किशोर की पिटाई सहित अपहरण का मामला दर्ज करवाया है। थक हारकर पीड़िता बेगूसराय एसपी से न्याय की गुहार लगा रही है।

वहीं बेगूसराय के एसपी अवकाश कुमार ने बताया कि इस मामले में अपहरण का मामला दर्ज किया गया है। लेकिन सहाना खातून के द्वारा लगाए गए पुलिस पर लापरवाही सहित गाली गलौज के आरोप की भी जांच की जा रही है। जांच के बाद जो भी दोषी पाए जाएंगे उन पर कार्रवाई की जाएगी तथा जल्द ही अपहृत किशोर मोहम्मद नासिर को भी ढूंढ लिया जाएगा।