पटना में बोले जयसूर्या, कोहली और धोनी में कोई तुलना ठीक नहीं

667
0
SHARE

पटना: श्रीलंका के विस्फोटक बल्लेबाज और पूर्व कप्तान सनथ जयसूर्या बुधवार को पटना में थे। पटनावासियों का अपने प्रति प्यार और उनकी आवभगत से काफी भावविभोर दिखे। उन्होंने पटना के लोगों की जमकर तारीफ की और उन्हें धन्यवाद दिया।

जयसूर्या राजधानी के एक होटल में डॉ. दयाल फाउंडेशन की ओर से आयोजित सम्मान समारोह में शिरकत करने आए थे। उन्होंने वर्तमान भारतीय क्रिकेट टीम पर भी खूब बातें कीं। कहा कि वनडे कप्तान महेन्द्र सिंह धौनी और टेस्ट कप्तान विराट कोहली के बीच कोई तुलना नहीं की जानी चाहिए। दोनों अपनी शैली के शानदार बल्लेबाज हैं। दोनों ने अपनी-अपनी रणनीति से कप्तानी कर टीम की श्रेष्ठता साबित की है।

कोहली के बारे में कहा कि वे क्रिकेट के सभी प्रारूपों के लिए उपयुक्त बल्लेबाज हैं। भारतीय टीम के कोच और अपने अभिन्न मित्र अनिल कुंबले के बारे में कहा कि वे कोचिंग में भी अव्वल साबित हो रहे हैं। हालांकि यह भी कहा कि कुंबले ने अभी कोचिंग की पारी शुरू की है और उन्हें लम्बा सफर तय करना है। जयसूर्या ने युवा बल्लेबाज करुण नायर के बारे में कहा कि तिहरा शतक लगाना ही अपने-आप में बड़ी बात है।

इतने कम मैचों के अनुभव वाले बल्लेबाज का 300 रन का आंकड़ा छूना आश्चर्य से कम नहीं है। समारोह में सम्मानित होने से पहले पूर्व भारतीय विकेटकीपर सबा करीम ने जयसूर्या का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि मैं अपने सुंदर से शहर में आपका स्वागत करता हूं। साथ ही एक मैच की यादें साझा करते हुए कहा कि उसमें जयसूर्या लगातार हिट किए जा रहे थे। मैंने उन्हें कई बार स्टंप करने की कोशिश की लेकिन नाकाम रहा।

निजी बातें साझा करते हुए जयसूर्या ने कहा कि वह बचपन से नीले रंग की रुमाल अपने साथ रखते हैं। यह मेरे लिए लकी रुमाल रहा है इसलिए अबतक मेरे साथ है। 110 टेस्ट में 6773 रन और 445 वनडे में 13430 रन बनाने वाले जयसूर्या ने यह भी खुलासा किया कि मैदान में जाने से पूर्व वे अपने किट में एक तरफ हेलमेट और दूसरी तरक टोपी रख देते थे। साथ ही बल्ले को उलट कर रखना नहीं भूलते थे। उन्होंने कहा कि यह भी शगुन था।