पत्रकार दुर्ग सिंह को मिली जमानत

85
0
SHARE

पटना – राजस्थान के बाड़मेर के पत्रकार दुर्ग सिंह राजपुरोहित को आज कोर्ट ने जमानत दे दी। बता दें कि पुरोहित को झूठे केस में फंसाया गया था। आरोप लगाने वाले भी अब तक पुलिस के सामने नहीं आए हैं। पटना के जोनल आईजी एनएच खान पूरे मामले की जांच कर रहे हैं। आरोप लगाने वाला राकेश लापता है। पुलिस उसकी तलाश कर रही है। तीन दिनों के अंदर जांच पूरी कर रिपोर्ट सरकार को सौंप दी जाएगी।

बता दें कि पाकिस्तान बोर्डर पर तैनात एक फौजी को अपने भाई के साथ हो रहे नाइंसाफी की लड़ाई लड़ने के लिए इमर्जेंसी में बिहार आना पड़ा। यहां वो दर दर की ठोकरें खा रहा है।क्योंकि उसके भाई को एससी एसटी ऐक्ट के झूठे मुकदमे में फंसाया गया।

परिजनों का कहना है कि पत्रकार दुर्ग सिंह को राजस्थान के बाड़मेर से राजस्थान पुलिस ने वाट्सएप के ज़रिए मिले वारंट के आधार पर गिरफ्तार कर पटना भेज दिया। बताया गया कि उसके खानदान से कोई आजतक पटना क्या बिहार ही नहीं आया। राजस्थान के बाड़मेर के निवासी दुर्ग सिंह राजपुरोहित को गिरफ्तार किया गया। दुर्ग सिंह के पिता भी बेटे के साथ बिहार आये हैं। यहां वो कभी थाने तो कभी अदालत के चक्कर काट रहे हैं। पिता ने बताया कि गलत मुकदमे में फंसाकर उनके बेटे को जेल भेजा गया। उन्होंने कहा कि मेरे बेटे को जान से मारने की साजिश के तहत ये सब किया जा रहा है।