पप्पू यादव ने कहा – यह चमकी बुखार नहीं यह नेताओं का डिजास्टर है

131
0
SHARE

धनंजय झा

बेगूसराय – पूर्व सांसद सह जन अधिकार पार्टी के अध्यक्ष पप्पू यादव आज बेगूसराय पहुंचे जहां उन्होंने केंद्र और राज्य सरकार को आड़े हाथों लिया। हाल के दिनों में चमकी बुखार से हुई मौत मामले में पप्पू यादव ने कहा कि यह चमकी बुखार नहीं यह नेताओं का डिजास्टर है।

पप्पू यादव ने कहा कि चाहे कोई भी हो सभी नेताओं की नीति और नीयत दोनों ही बदल गई है। केंद्र व राज्य सरकार को आड़े हाथों लेते हुए पप्पू यादव ने कहा कि पिछले 13 वर्षों से बिहार में नीतीश की सरकार है और केंद्र में मोदी की सरकार भी अपना दूसरा कार्यकाल शुरू कर चुकी है लेकिन कई वर्षों से जारी चमकी बुखार के संबंध में अब तक प्रशासनिक स्तर पर कोई ठोस पहल नहीं की गई है। यहां तक कि सरकार के द्वारा जो चमकी बुखार से मौत का आंकड़ा दिया जा रहा है वह भी आधा अधूरा है।

आरोप लगाते हुए पप्पू यादव ने कहा कि चमकी बुखार से जितने भी लोग आक्रांत हुए हैं वह सभी गरीब और दलित समुदाय के लोग थे इसलिए सरकार का ध्यान इस ओर नहीं जा सका। पप्पू यादव ने कहा कि बिहार में 40% बच्चे कुपोषित हैं लेकिन 70 साल बीत जाने के बाद भी किसी भी सरकार का ध्यान बिहार के कुपोषित बच्चों की तरफ नहीं गया।

सरकार पर आरोप लगाते हुए पप्पू यादव ने कहा कि चुनाव के दौरान 40 सभाएं करने के लिए सरकार के पास समय है लेकिन तीन सौ पचास बच्चों की मौत हो जाने के बाद भी और 26 दिन बीत जाने के बाद भी सरकार को एक ट्वीट करने की भी फुर्सत नहीं है।

तेजस्वी यादव के संबंध में पूछे जाने पर पप्पू यादव ने कहा के हमाम में सभी नंगे हैं सभी एक जैसे चोर चोर मौसेरे भाई हैं। आज बिहार में सरकार नहीं चल रही बल्कि नूरा की कुश्ती का खेल हो रहा है। पप्पू यादव ने कहा कि नेता सिर्फ वोट के लिए बिहारियों का उपयोग करते हैं। जबकि केंद्र हो या राज्य की सरकार उसे बिहार की कोई चिंता नहीं।

पप्पू यादव ने कहा कि आज बिहार में स्वास्थ्य व्यवस्था दयनीय है अस्पतालों में दवा नहीं है,आईसीयू की सुविधा नहीं है लेकिन बिहार सरकार हेलीकॉप्टर से लू का आकलन करने के लिए जाती है। कुल मिलाकर पप्पू यादव ने कहा कि जन अधिकार पार्टी जनहित के उन सारे मुद्दों को उठाएगी और सरकार को नंगा करने का काम करेगी।