पुरुषवादी मानसिकता की दुनिया में कास्टिंग काउच कभी ख़त्म नहीं होगा : पायल

147
0
SHARE

पटना – बॉलीवुड अभिनेत्री पायल रोहतगी ने कहा है कि ये दुनिया पुरुषवादी है, इसीलिए यहां कभी कास्टिंग काउच जैसी चीज खत्म नहीं हो सकती। उन्होंने खुलासा किया कि 2010 में उन्हें भी कास्टिंग काउच का शिकार होना पड़ा था। वे एक भोजपुरी फिल्म के प्रोमोशन के लिए पटना आई थीं। उन्होंने इस फिल्म में काम भी किया है।

कास्टिंग काउच के बारे में पूछे गए एक सवाल का जवाब देते हुए पायल ने दो तुक कहा कि बॉलीवुड से लेकर हॉलीवुड तक में कास्टिंग काउच जारी है। और यह कभी खत्म नहीं हो सकता क्योंकि यह दुनिया मेल डोमिनेटेड है ,और पुरुष ऐसा चाहते हैं। उन्होंने बिहार में शराबबंदी को लेकर सीएम नीतीश कुमार की जमकर तारीफ की। नरेंद्र मोदी सरकार की सराहना करते हुए कहा कि आजादी के बाद बीजेपी की सरकार को जब भी काम करने का मौका मिला, सरकार ने हिन्दुस्तान को विकसित करने के लिए बेहतर काम किया। बारे में बातचीत करने बताया पर्दे पर जो ग्लैमर नजर आता है उसके पीछे का सच बेहद संगीन होता है।

उन्होंने कहा कि फिल्मों में काम करने वाली लड़कियों के साथ हर स्तर पर शोषण होता है आप चाहे कितने भी बोल दो लेकिन आपके ऊपर गिद्ध दृष्टि निचले पायदान से लेकर उपरी पायदान तक लगी रहती सभी मौके की तलाश में रहते हैं सफलता की कीमत किस्तों में अदा करना पड़ता है स्टारडम को बनाए रखने के लिए हालात से समझौता करना ही पड़ता है। उन्होंने कहा कि हिंदी फिल्मों में काम मिलना आसान नहीं होता आकर्षक नैन नक्श और टैलेंट होने के बावजूद बिना कुछ खास लोगों को खुश किए आप की कास्टिंग तक नहीं होती आप को सब कुछ सहना पड़ता है जो लोग इस व्यवस्था के खिलाफ आवाज उठाते हैं उन्हें दरकिनार कर दिया जाता है।