पॉल्ट्री फॉर्म में मिनी गन फैक्ट्री का उद्भेदन

276
0
SHARE

लखीसराय – जिले के टाउन थानाक्षेत्र के धर्मरायचक स्थित खेत बहियार की ओर एक पॉल्ट्री फॉर्म में मिनी गन फैक्ट्री का उद्भेदन किया गया है। यहां भारी मात्रा में पिस्टल व देसी कट्टा तैयार किया जाता था।

बिहार के आईजी ऑपरेशन कुंदन कृष्णन के निर्देश पर एसटीएफ ने लखीसराय पुलिस के साथ मिलकर छापेमारी की और मौके पर से दो पिस्टल, दो देसी कट्टा, दो अर्धनिर्मित पिस्टल समेत हथियार बनाने के सामान बरामद हुए हैं।
मिनी गन फैक्ट्री का मुख्य सरगना मौके पर से फरार हो गया, जबकि मुंगेर से पिस्टल बनाने का सामान डिलीवरी करने आया एक तस्कर पुलिस के हत्थे चढ़ गया। टाउन थाना में लखीसराय एसडीपीओ मनीष कुमार के नेतृत्व में उससे पूछताछ चल रही थी, जबकि देर रात तक पुलिस अलग-अलग टीम बनाकर अलग-अलग जगहों पर छापेमारी में लगी हुई थी।

आस-पड़ोस के लोगों के अनुसार चार बोलेरो में एसटीएफ की टीम मौके पर पहुंची और पॉल्ट्री फॉर्म को घेर लिया। छापेमारी की गई तो हथियार और भारी मात्रा में शराब बरामद हुआ। प्राप्त जानकारी के अनुसार फरार सरगना का नाम शंकर शर्मा बताया जा रहा है, जबकि पुलिस के हत्थे चढ़ा तस्कर गोलू कुमार, मुंगेर जिला के मुफस्सिल थाना के छोटी मिर्जापुर निवासी दिलीप विश्वकर्मा का पुत्र के रूप में पहचान हुआ है।

लखीसराय के एसपी, कार्तिकेय के. शर्मा ने प्रेसवार्ता कर बताया कि शहर से सटे पॉल्ट्री फॉर्म में मिनीगन फैक्ट्री चल रही थी। पॉल्ट्री फॉर्म में काफी दिनों से शराब का व्यापार चोरी छिपे होता था। मुंगेर से हथियार तस्कर के डिलीवरी देने लखीसराय पहुंचने की गुप्त सूचना एसटीएफ को मिली थी।
हथियार के साथ एक तस्कर गिरफ्तार हुआ है। इनके साथ दो पिस्टल 7.65 एमएम, दो देसी पिस्टल (कट्टा), दो अद्र्धनिर्मित पिस्टल, तीन बेस पार्ट, दो ड्रिल मशीन
एक लेथ मशीन, पिस्टल के पाट्र्स, आठ कार्टन विदेशी शराब बरामद किया गया है। मुख्य सरगना की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है।