फटेहाल मगध महिला कॉलेज

562
0
SHARE

पटना: पटना के मगध महिला कॉलेज में प्रिंसिपल ने अजीब फरमान जारी किया गया है। इस कॉलेज में अब जो भी परीक्षा होगी उसकी उतर पुस्तिका छात्राओं को अपने घर से लाना पड़ेगा। वहीं परीक्षा में जो भी प्रश्न पूछे जाएंगे उसे परीक्षा हॉल में टीचर ब्लैक बोर्ड पर लिखेंगी। प्रिंसिपल का कहना है कि कॉलेज में पैसे की इतनी कमी है की हम छात्राओं को उतर पुस्तिका और प्रश्न पत्र भी नहीं दे सकते है।

पटना के मगध महिला कॉलेज में इन दिनों 2500 स्नातक पार्ट -1 और पार्ट -2 की टर्मिनल परीक्षा चल रही है। इस परीक्षा में छात्राएं घर से खुद की कॉपी लाकर परीक्षा दे रही है। परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्न पत्र के बजाय ब्लैक बोर्ड पर लिखे जा रहे है।

कॉलेज की प्रिंसिपल आशा सिंह का कहना है कि एक तरफ सरकार छात्रों से ट्यूशन फिश लेने पर रोक लगा रखी है। ऊपर से कॉलेज को फंड भी नहीं दिया जा रहा है। जिसके कारन कॉलेज का खजाना खाली हो चूका है। इसके लिए हम लोगों ने यूनिवर्सिटी और राज्यपाल से कई बार गुहार लगा चुके है। जब कोई फंड नहीं आया तो, मैंने छात्राओ से कही कि 10 रुपया के हिसाब से पैसे जमा करो। तब ही कॉलेज छात्राओ को परीक्षा के लिए उतर पुस्तिका दे पाएंगे। लेकिन छात्राएं इस बात पर राजी नहीं हुई। इस कारण मैने छात्रोंओ से कही की सब अपने घर से उतर पुस्तिका लेकर आये।

अपनी परीक्षा देकर निकली छात्राओ ने कहा कि पहले तो कॉलेज से ही सब कुछ मिल रहा था। यह पहली बार हुआ है कि कॉपी हमलोग अपने घर से लेकर आ रहे है। और प्रश्न भी ब्लैक बोर्ड पर लिखा जा रहा है। जिसके कारण हमें काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। सरकार को इन बातो पर ध्यान देना चाहिए।

जहां एक तरफ नितीश सरकार छात्रों को कॉलेज स्तर तक फ्री शिक्षा देने का ढोल पीट रही है। तो वहीं दूसरी तरफ कॉलेज और यूनिवर्सिटी को कोई फंड नहीं दे रही है। इस कारण बिहार में शिक्षा का स्तर दिनोदिन गिरता चला जा रहा है।