फिल्मी स्टाईल में पुलिस ने 2 अपहरणकर्ताओं को किया गिरफ्तार

258
0
SHARE

दया नन्द तिवारी

रोहतास – पुलिस ने बड़ी कामयाबी के तहत फिल्मी स्टाईल में मध्य प्रदेश के एक बड़े व्यापारी के अपहरण की साजिश रचने वाले दो किडनैपर्स को शिवसागर इलाके से गिरफ्तार किया है। वहीं उनके पास से फिरौती के 40 लाख रुपए नगद के साथ एक देसी पिस्टल, बाइक व दो मोबाइल व तीन सीम बरामद किया है। रोहतास पुलिस की सूचना पर मुजफ्फरपुर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए व्यवसाई को मुजफ्फरपुर से बरामद कर लिया है।

रोहतास एसपी सत्यवीर कुमार सिंह ने बताया कि मध्य प्रदेश के रीवा के व्यवसाई को 23 जुलाई 2018 को फिरौती के लिए अपहरण किया था, जिसमें फिरौती की रकम 40 लाख रूपए मांगा गया था, परिजनों की सूचना के आधार पर स्पेशल टीम का गठन कर के हावड़ा-मुंबई एक्सप्रेस में निगरानी हेतु लगाया गया। कैमूर जिला के मोहनिया कुदरा स्टेशन के बीच चलती ट्रेन से अपहरणकर्ताओं के इशारे पर रुपया भरा बैग फेंक दिया गया। ट्रेन में तैनात रोहतास स्पेशल टीम के द्वारा चेन पुलिंग की गई और गाड़ी रुक गई वही स्पेशल टीम ने किडनैपर्स का पीछा किया तो एक लाल रंग से अपाची बाईक से दो अपन कर्ताओं से भरा बैग लेकर जीटी रोड होते सासाराम भाग रहे थे, तभी सूचना पर दूसरी टीम ने शिवसागर इलाके के टोल प्लाजा के समीप चेकिंग के दौरान दो अपराधियों को काले रंग का बैग लेकर भागते हुए पकड़ लिया। इसी क्रम में अपराधियों के द्वारा पुलिस पर फायरिंग की नियत अपनाई गई लेकिन किसी तरह पुलिस ने दोनों किडनैपर्स को गिरफ्तार कर लिया और इस दौरान फिरौती के लिए मांगी गयी चालीस लाख भी बरामद कर लिया गया।

वही पुलिस ने अपहरणकर्ताओं से जब कारोबारी के बारे में पूछताछ की तो बताया कि इस गिरोह के अन्य साथियों के द्वारा मुजफ्फरपुर जिला अंतर्गत बरुराज थाना में कुख्यात अपराध कर्मी खालिद अंसारी मनोहर छपरा के घर के पीछे छिपा कर रखा गया है तत्काल हरकत में आई पुलिस ने मुजफ्फरपुर एसपी से संपर्क साध कर घटना की जानकारी दी, मुजफ्फरपुर पुलिस ने सुचना पर संज्ञान लेते हुए कुख्यात अपराधी खालिद अंसारी के घर से अपह्रीत व्यवसायी को मुक्त करा लिया वही 3 लोगों को गिरफ्तार भी की।

एसपी ने बताया कि अपहरणकर्ताओं के द्वारा अपहरण मामले में संलिप्तता स्वीकार करते हुए 23 /7/018 को रीवा सिद्धि हाईवे पर इनके गिरोह के द्वारा पुलिस की वर्दी पहनकर निशान टेरेनो से आ रहे व्यवसाई को अपहरण कर लिया था और उनकी गाड़ी को भी लूट लिया था जिसके बाद किडनैपर्स ने गाड़ी को चुनार मिर्जापुर में छोड़ दिया था जिसे रीवा पुलिस ने बरामद कर लिया था उन्होंने बताया कि इस कांड का मास्टरमाइंड बलिंदर कुमार सिंह जो कि औरंगाबाद का रहने वाला है 15 वर्षों से फिरौती के लिए अपहरण की वारदात को अंजाम दे रहा था दो बार या मध्यप्रदेश के न्यायिक हिरासत से जेल से फरार भी हो चुका है वही बताया कि महेश मास्टर माइंड पर मध्य प्रदेश सरकार ने एक लाख का इनाम भी घोषित कर रखा है।