फुटपाथ पर रोजी-रोजगार करने वाले गरीबों के पुनर्वास की व्यवस्था करे सरकार – पटेल

108
0
SHARE

पटना – राष्ट्रीय सामाजिक न्याय मोर्चा के प्रधान महासचिव नरेश महतो, राष्ट्रीय मुख्य प्रवक्ता नीलमणि पटेल एंव प्रदेश अध्यक्ष बिनोद कुमार उर्फ बिनू सिंह व महासचिव अरुण नटराज ने आज एक बयान जारी कर कहा कि राजधानी पटना में अतिक्रमण के नाम पर फुटपाथ पर रोजी-रोजगार करने वाले गरीब लोगों को बेवजह प्रताड़ित किया जा रहा है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को इस मामले में हस्तक्षेप करते हुए गरीब लोगों के लिए रोजगार की वैकल्पिक व्यवस्था किये जाने की मांग की है।

इन नेताओं ने कहा कि राज्य सरकार पिछड़ो अति पिछड़ो, दलितों व अल्पसंख्यकों को विकास और उन्नती के लिए रोजगार करने हेतु प्रोत्साहन राशि उपलब्ध कराने की बात करती है वहीं दूसरी ओर इन वर्ग के लोगों को अपने पुंजी से कर रहे छोटे-छोटे चाय दुकान, पान दुकान, पकौड़े की दुकान व छोटे स्व रोजगार को अतिक्रमण हटाने के नाम पर उजारा जा रहा है जो गरीबों के पेट पर लात मारने जैसा है। सड़कों के किनारे छोटे-छोटे रोजगार लगाने वाले लोग समाज के वंचित तबका से ही आते है। ये वर्ग अपने और अपने परिवार का भरण-पोषण इन्हीं रोजगार की बदौलत कर पाते है। इसलिए राष्ट्रीय सामाजिक न्याय मोर्चा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मांग करता है कि अतिक्रमण के नाम पर गरीबों को प्रताड़ित न किया जाए और इनके रोजगार व पुर्नवास की समुचित व्यवस्था की जाए अन्यथा इन सभी गरीबों की आह सरकार को ले डुबेगी।