फ्रांसीसी पीएम बिहार को देगें सौगात

467
0
SHARE

मधेपुरा- हाजीपुर जोन के एजीएम अनूप कुमार ने पिछले दिनों मधेपुरा दौरे के क्रम में बताया था कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और फ्रांस के प्रधानमंत्री मंत्री आएंगे मधेपुरा विद्युत रेल इंजन का उद्घाटन करने हालांकि अभी ये तय नहीं हुआ है कि कब और किस तिथि को आएंगे। बता दें कि विद्युत रेल इंजन कारखाना में निर्मित 12000 हॉर्स पावर का पहला रेल इंजन का ट्रायल बीते 26 फरवरी सोमवार को ही किया गया।

कारखाना परिसर में बने 3 किलोमीटर के ट्रैक पर देश के सबसे उच्च क्षमता बाली रेल इंजन चली और ट्रायल सफल रहा। 26 फरवरी का दिन कोसीवासियों के लिए ऐतिहासिक रहा। मालूम हो कि विद्युत रेल इंजन निर्माण का ठेका भारत सरकार ने फ्रांस कि कंपनी एल्सटॉम को दे रखी है और इस इंजन का निर्माण एल्सटॉम कंपनी द्वारा ही किया गया है।

मधेपुरा में निर्मित ये विद्युत इंजन ईस्ट वेस्ट कॉरिडोर में चलने वाली मालगाड़ी में प्रयुक्त किया जाएगा। अब एल्सटॉम कंपनी जल्द ही इस इंजन को रेल मंत्रालय भारत सरकार को सुपुर्द करेगी। उल्लेखनीय बात तो यह है कि मधेपुरा कारखाना में 11 साल में 800 विद्युत रेल इंजन तैयार करेगी एल्सटॉम कंम्पनी जो अपने आप में बहुत ही महत्वपूर्ण बात है।

मधेपुरा कारखाना में निर्मीत एक इंजन की लागत 25 से 28 करोड़ रुपये आता है। पूर्व रेल मंत्री लालू यादव ने मधेपुरा में विद्युत रेल इंजन कारखाना के लिए 11 सौ एकड़ जमीन अधिग्रहित किये थे। लेकिन फिलहाल 360 एकड़ में ही अभी कारखाना का निर्माण हुआ है। जहां इंजन निर्माण कार्य में फ्रांस कि एल्सटॉम कंपनी दिन रात लगी हुई है। इंजन का ट्रायल सफल रहने पर खासकर मधेपुरा वासियों में खुशी की लहर दौर पड़ी है।