बारिश की पानी ने खोली पोल

192
0
SHARE

दिलीप कुमार

कैमूर – मॉनसून के आते ही पिछले एक हफ्ते से कैमूर जिले में लगातार हो रही बारिश के कारण हर जगह पानी ही पानी दिखाई दे रहा है। एक बार फिर बारिश के पानी ने नगर पंचायत मोहनिया के दावों का पोल खोल दिया। एक हफ्ते की बारिश से जलजमाव इस कदर हो गया आम आदमी के साथ विद्यालय, सरकारी कार्यालय और प्रशासन के आवास को भी अपने चपेट में ले लिया।

मोहनिया एसडीएम शिव कुमार रावत, मोहनिया प्रखंड विकास पदाधिकारी और प्रखंड अंचल के दर्जनों कर्मियों के आवास के अंदर और मुख्य रास्ते पर दो से तीन फीट ऊपर पानी बह रहा है। वहीं प्रखंड कार्यालय मोहनिया का पूरा कैंपस जलमग्न हो गया। तो गर्ल स्कूल मोहनिया में 3 फीट पानी भर जाने से कैंपस के साथ-साथ विद्यालय के क्लास रूम में पानी भर गया है। बेंच भी इस पानी में डूबे हुए हैं। जिस कारण नीचे का क्लासरूम पूरी तरह से बंद कर ऊपर के कमरों में बच्चियों को पढ़ाया जा रहा है।

जब भी बारिश होता है तो एसडीएम, बीडियो सहित दर्जनों कर्मियों के आवास के अंदर पानी और मुख्य रास्ते पर बारिश के पानी का जल जमा हो जाता है। अधिकारी हर बार आश्वासन देते हैं, जल निकासी के लिए लाखों रुपये का फंड रिलीज होता है, लाखों रुपए के काम कराने का दावा किया जाता है लेकिन बारिश सब का पोल खोल देता है।

मोहनिया एसडीएम शिव कुमार रावत ने बताया कि नगर पंचायत की गलती है बारिश से पहले पानी निकासी का व्यवस्था रखना चाहिए था उन्होंने नहीं किया। फिलहाल टेंपरेरी रास्ता काटकर पानी निकासी कराया जाएगा जिससे लोगों के घरों से पानी निकल सके।

वहीं गर्ल स्कूल के हेडमास्टर ने बताया कि हल्की बारिश में विद्यालय में पूरी तरह से पानी भर जाता है। कई बार विभाग को लिख कर दिया गया कोई सुनने वाला नहीं है। बारिश के मौसम में अक्सर बच्चियों का पठन-पाठन बाधित हो जाता है।