बाल-बाल बचा मॉब लिंचिंग होते

124
0
SHARE

धनंजय झा

बेगूसराय – सुप्रीम कोर्ट के लगातार सख्त निर्देश तथा बिहार सरकार एवं प्रशासनिक पदाधिकारियों के संज्ञान लेने के बावजूद भी बेगूसराय में लोग कानून को हाथ में लेने से नहीं चूक रहे हैं। बेगूसराय के लिए मॉब लिंचिंग जैसी घटनाएं आम बात हो गई है। आज ऐसे ही एक मामले में बाइक की चोरी करते हुए रंगे हाथ एक चोर को पकड़ कर लोगों ने जमकर पिटाई कर दी गनीमत यह रही कि पुलिस को सूचना मिलने के बाद तत्क्षण पुलिस मौके पर पहुंचकर किसी तरह उक्त युवक की जान बचाने में सफल रही। घटना नगर थाना क्षेत्र के हर हर महादेव चौक की है।

किसी ने सच ही कहा है आशिकी में लोग किसी भी हद तक गुजर सकता है ऐसे ही एक मामले में लड़की से हुए प्रेम के चक्कर में उक्त युवक बाइक चोर बन बैठा और आज चोरी के ही एक घटना को अंजाम देने के दौरान लोगों ने उसे रंगे हाथ पकड़ कर जमकर पिटाई कर दी, जिससे वह अधमरा हो गया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार युवक सुमित कुमार उर्फ छोटू को लखीसराय की एक लड़की से प्रेम हो गया था और उसी के खर्चे पूरे करने के लिए वह बाइक चोर बन बैठा। सुमित कुमार के चोर बनने के पीछे एक कहानी और सामने आ रही है। सुमित कुमार के एक मित्र ने उसकी प्रेमिका के साथ आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया था और उसका फोटो बना लिया था बाद में उसी फोटो के सहारे उक्त युवक के द्वारा सुमित कुमार को ब्लैकमेल किया जाने लगा तथा चोरी जैसी अपराध के दलदल में धकेल दिया गया। सुमित कुमार ने खुद भी बाइक चोरी की कई घटनाओं में अपनी संलिप्तता स्वीकार की है।

पकड़े जाने के बाद सुमित कुमार ने अपने आपको बेगूसराय जिले के चकिया थाना क्षेत्र स्थित बीहट के एक सीपीआई नेता प्रहलाद सिंह के पुत्र के रूप में अपनी पहचान बताई। लेकिन इसके बावजूद भी लोगों का गुस्सा नहीं थमा और लोगों ने सुमित कुमार को पीट-पीटकर अधमरा कर दिया। घटना के संबंध में स्थानीय दुकानदारों ने बताया सुमित कुमार के द्वारा एक मोटर के शोरूम के नजदीक चोरी की कई घटनाओं को अंजाम दिया गया है लेकिन आज यह युवक रंगे हाथ पकड़ा गया तथा उसकी सारी करतूत सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई।

इस मामले में पुलिस की कार्यशैली भी वाकई सराहनीय रही। अगर मौके पर ससमय पुलिस नहीं पहुंचती तो मॉब लिंचिंग में आज फिर एक युवक की जान जा सकती थी। फिलहाल युवक को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां से उसकी स्थिति को देखते हुए डॉक्टरों ने निजी नर्सिंग होम के लिए रेफर कर दिया। पुलिस ने उसे निजी नर्सिंग होम में भर्ती कराया है। वहीं पुलिस उक्त युवक को किसी पार्टी विशेष से संबंध रखने के मामले को बेबुनियाद बता रही है।