बाढ़ के हवाई सर्वेक्षण के बजाय जमीन सर्वेक्षण करें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार : रजनीश

124
0
SHARE

पटना – जन अधिकार पार्टी लोकतांत्रिक युवा परिषद युवा जाप के निवर्तमान प्रदेश प्रवक्ता रजनीश कुमार तिवारी ने बिहार में बाढ़ के कहर पर ब्यान जारी कर कहा है कि बिहार में बाढ़ की चपेट मे विभिन्न जिलों से 12 लाख लोग है। लोगों मे बाढ़ की पानी से हाहाकार है कई जगह अररिया एवं सीतामढ़ी-शिवहर पुल टूट चुके हैं। आवागमन बिल्कुल ठप हो गया है। कई जिलों के लोग बाढ़ की पानी से त्रस्त है जन जीवम अस्त व्यस्त है।

उन्होंने कहा कि नावों की व्यवस्था लोगो के लिए अभी तक नहीं किया गया है। लोग गावों में फसे पड़े है अभी तक बाढ़ की प्रकोप से 11लोगों की मौत हो चुकी है लेकिन राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी संवेदनहीन दिख रहें। उनके आंखों में कोई संवेदना नहीं दिख रही बल्कि पूरे भारत के लोग बिहार की बढ़ती हुई बाढ़ त्रास्दी से चिंतित है। मुख्यमंत्री से बाढ़ से उन 11 सभी मृत के परिजनों को सरकार रोजगार और 20 लाख रुपये आर्थिक मदद करें।

तिवारी ने कहा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को हवाई सर्वेक्षण के बजाय बाढ़ की जमीनी सर्वेक्षण करनी चाहिए तब उन्हें जमीनी हकीकत का पता चलेगा। सरकार को बाढ़ त्रासिदी से निपटने के लिए बहुत पहले ही इसका उपाय करना चाहिए था। लेकिन राज्य सरकार की आँख दर्जनो और सैकड़ो मृत्यु की बाद खुलती है जिस तरह से मीडिया में खबर आ रहा है लोगो में राज्य सरकार के खिलाफ आक्रोश है।

तिवारी ने बताया कि जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव ने सभी कार्यकर्ताओं को बाढ़ पीड़ितों को राहत-बचाव औऱ उन्हें हर संभव मदद करने का निर्देश दिया है। कार्यकर्ता जिले भर में बने हुए हैं और स्तिथि पर नजर बनाये हुए है।

तिवारी ने कहा कि राज्य सरकार बाढ़ पीड़ितों की बीच राहत सामग्री नावें आपदा प्रबंधन की टीम उचित मात्रा में दवाएं आदि की व्यवस्था की बाढ़ से प्रभावित नौ जिलों में तत्काल प्रभाव से करना चाहिए।

रजनीश तिवारी ने बताया कि आज दिनाँक 16 जुलाई को जन अधिकार पार्टी (लो) बाढ़ से बिहार मि जनता की परमानेंट सॉल्यूशन, चमकी बुखार एवं लू -से सैकड़ों मासूमों की मौत,बढ़ते बलात्‍कार, कस्‍तूरबा स्‍कूल में यौन शोषण, बिहार को विशेष राज्‍य का दर्जा समेत अन्‍य मांगों को विधानसभा घेराव करेगी और गहरी निंद्रा में सोई हुई सरकार को जाप जगाने का काम करेगी। इस प्रदर्शन में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव समते पार्टी के सभी नेता कार्यकर्ता शामिल रहेंगे।