बिहारियों के अपमान पर जवाब दे नीतीश: कांग्रेस

550
0
SHARE

कांग्रेस ये चाहती है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इस बात का जवाब राज्य की जनता को दें कि राज्य पुलिस के डीजीपी अभयानंद द्वारा सीआरपीएफ को लिखा गया पत्र, जिसमें सीआरपीएफ के बिहारी मूल के अधिकारियों को बिहार से हटाने और उन्हें बिहार में नियुक्त नहीं करने की जो मांग की गई है, क्या ये सरकार की सहमति से भेजा गया? क्या नीतीश कुमार और उनके सचिवालय को इस बात की जानकारी थी कि उनके ही मातहत और सीधे उन्हें रिपोर्ट करने वाले राज्य पुलिस के मुखिया ने बिहारियों को अपमानित करने वाला पत्र लिखा है? अगर नहीं तो सरकार बिहारियों को अपमानित करने वाले इस सर्वोच्च अधिकारी को हटाए और तुरंत माफी मांगे।

एक प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से कांग्रेस ने कहा है कि  बात-बात पर केन्द्र की यूपीए सरकार को बिहारी अस्मिता के नाम पर धौंस दिखाने वाले नीतीश कुमार को ये बताना चाहिए कि आखिर उनके मातहत अधिकारी तक उनकी बिहारी अस्मिता की सोच कैसे नहीं पहुंच पाई। अभयानंद की सीआरपीएफ डीजी को लिखी चिट्ठी बिहारियों का खुला अपमान है। इससे साफ होता है कि नीतीश कुमार की पकड़ अपने प्रशासन से खत्म हो चुकी है। बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी ने यह मांग किया है कि नीतीश कुमार बिहारियों के अपमान के प्रति अपनी संवेदना दिखाएं और अविलम्ब कार्रवाई करें।