बिहार का विकास अब रुकने वाला नहीं : नीतीश कुमार

209
0
SHARE

पटना: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पटना के एक कार्यक्रम में पीएम मोदी पर हमला करते हुए कहा कि कुछ लोग मेरे सात निश्चयों पर सवाल उठा रहे है। हमने तो एक निश्चय को लागू भी कर दिया। हमें नहीं मालुम कि उनके 14 सुत्री कार्यक्रम का क्या हुआ। मुझे नहीं मालुम के काला धन कब वापस आएगा। लोगों को कब रोजगार मिलेगा, किसानों को एसएसपी मिलना था लागत पर 50 फीसदी उनका क्या हुआ।

बिहार में स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना भी 2 ऑक्टुबर से लागू हो जाएगा। उससे पहले 15 सितंबर को ट्रायल किया जाएगा ताकि कोई डिफेक्ट न हो। इस तरह से मैं काम करने की कोशिश कर रहे है पूराने काम को जारी रखते हुए। हमें अभी बहुत आगे जाना है। शक्षरता से लेकर उच्च शिक्षा तक। हर चीज में पीछे थे। रोने से काम नहीं चलेगा। हम जहां है वहीं से काम करना पड़ता है।

बिहार में कोई बिग टिकट इंवेस्टमेंट तो आ नही रहा है। और आएगा भी नहीं। जब तक बिहार को विशेष राज्य का दर्जा नहीं मिलेगा, यहां कोई नहीं आएगा। हमारे नीतियों के कारण अबतक बिहार में आठ हजार करोड़ रुपये का निवेश हो चुका है। बिहार में बड़ा निवेश के बिना भी विकस दर दो अंकों में है। बिहार का विकास मॉडल पब्लिक निवेश है। बिहार रा ग्रोथ मॉडल इंसानों को प्राथमिकता देता है। बिहार का विकास अब रुकने वाला नहीं है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे सात निश्चय में से एक निश्चय महिला सशक्तिकरण का था। हमने महिलाओं को स्थानीय निकायों में पचास प्रतिशत का आरक्षण दे दिया है। इसके अलावा पुलिस भर्ती में महिलाओं को 35 प्रतिशत का आरक्षण दिया गया था। अब सरकार की सभी नियुक्तियों में महिलाओं को 35 प्रतिशत का आरक्षण दिया जाएगा। हमने सात निश्चय में से एक निश्चय को लागू कर दिया है। स्वंय सहायता समूह के संदर्भ में मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वंय सहायता समूह बनाने के मामले में बिहार पहले काफी पीछे था।

हमारा लक्ष्य है कि हम महिलाओं के दस लाख स्वंय सहायता समूह बनाएं। अब तक लगभग पांच लाख स्वंय समूह बना लिया गया है। इससे महिलाओं में एक आत्मविश्वास बना है। हमारी आधी आबादी का सशक्तिकरण हो रहा है।