बिहार बंद के दौरान जीटी रोड सहित प्रमुख राष्ट्रीय उच्च पथों पर यातायात पूरी तरह ठप्प, रेलवे परिचालन बाधित

327
0
SHARE

कई स्थानों पर माले कार्यकर्ताओं की हुई गिरफ्तारी
बंद के समर्थन में भारी संख्या में सड़क पर उतरे छात्र-छात्रायें
टाॅपर घोटाले के राजनीतिक संरक्षण की उच्चस्तरीय न्यायिक जांच की मांग पर माले ने किया है बंद का आह्वान

पटना 11 जुलाई 2016। टाॅपर घोटाले के राजनीतिक संरक्षण के उच्चस्तरीय न्यायिक जांच, न्यायिक जांच में शिक्षा नीति की पड़ताल के लिए शिक्षाविदों को शामिल करने, समान स्कूल प्रणाली लागू करने, एससी-एसटी छात्रों की छात्रवृत्ति कटौती वापस लेने, सरकारी नौकरियों के प्रमोशन में आरक्षण के प्रावधानों पर लगी रोक को अविलंब हटाने, घोटालेबाजों की संपत्ति जब्त करने आदि मांगों पर भाकपा-माले द्वारा आहूत आज का बिहार बंद पूरे राज्य में असरदार ढंग से लागू हो रहा है. स्कूल-काॅलेज, बैंक-ब्लाॅक आदि प्रतिष्ठान कई जगहों पर प्रभावित हुए और वहां काम-काज ठप्प रहा. जहानाबाद व अरवल के कई स्कूलों के छात्र-छात्राओं ने अपनी कक्षाओं का बहिष्कार करते हुए बंद के समर्थन में जुलूस निकाला.
माले कार्यकर्ताओं ने अहले सुबह ट्रेनों को रोक कर बंद की शुरूआत की. भाकपा-माले, आइसा व इनौस के कार्यकर्ताओं ने दरभंगा रेलवे स्टेशन पर संपर्क क्रांति एक्सप्रेस को रोक दिया, जिसकी वजह से इस पूरे रेलवे मार्ग पर यातायात बाधित हो गयी. गया के गुरारू में सियालदह, मुजफ्फरपुर में सप्त क्रांति, समस्तीपुर में वैशाली, नवादा में जमालपुर-गया पैसेंजर, आरा में पटना-सासाराम फास्ट पैसंेजर, बिहिया में 565 अप लोकल, जहानाबाद में रांची-पटना जनशताब्दी एक्सप्रेस, बिहटा में पटना-आरा पैसेंजर को रोकने की खबर मिली है.

जहां एक ओर ट्रेनों का परिचालन बाधित किया गया, वहीं दूसरी ओर जीटी रोड सहित अधिकांश राष्ट्रीय व राजकीय पथों पर यातायात बाधित रहा. गया के डोभी में जीटी रोड, दरभंगा के मब्बी में व मुजफ्फरपुर के बोचहां में एनएच 57, भोजपुर के जगदीशपुर, पीरो व बक्सर के सोनबरसा में एनएच 30 पर यातायात पूरी तरह ठप्प कर दिया गया है. अरवल में एनएच 98 पर परिचालन पूरी तरह बंद है तो जहानबाद-अरवल मार्ग को भी कई जगह पर बाधित किया गया है. जहानाबाद में एन एच 83, मोतिहारी में एनएच 28 को पूरी तरह जाम कर दिया गया है. मुजफ्फपुर-शिवहर रोड को मीनापुर में, डुमरांव में डुमरांव-विक्रमगंज रोड आदि मार्गों पर भी परिचालन ठप्प है. बक्सर-दिनारा पथ धनसोई में पूरी तरह जाम है.

बंद के दौरान आम नागरिकों खासकर छात्रों का व्यापक समर्थन मिलता दिख रहा है. जहानाबाद में गांधी स्मारक उच्च विद्यालय के पचासों छात्रों ने बंद के कार्यक्रम में हिस्सा लिया और उन्होंने टाॅपर्स घोटाले के राजनीतिक संरक्षण की न्यायिक जांच की मांग की. अरवल में भी छात्र-छात्राओं ने बंद में हिस्सा लिया. माले नेता गोपाल सिंह के नेतृत्व में बिहटा में भी छात्र-छात्राओं का बड़ा जत्था बंद के समर्थन में उतरा और ट्रेन के परिचालन को ठप्प किया. जहानाबाद के बंद का नेतृत्व जिला सचिव श्रीनिवास शर्मा, रामाधार सिंह, रामबली यादव, संतोष कुमार केसरी ने किया. अरवल में महानंद और रवीन्द्र यादव ने बंद का नेतृत्व किया.

आरा में माले विधायक सुदामा प्रसाद, कयामुद्दीन अंसारी और माले नेताओं के नेतृत्व में सैंकड़ों माले कार्यकर्ताओं ने जुलूस निकालकर आरा बस स्टैंड को पूरी तरह बंद करा दिया और फिर पूरे शहर में मार्च निकाला. आइसा राज्य सचिव अजीत कुशवाहा के नेतृत्व में जगदीशपुर में बंद का नेतृत्व किया गया. डुमरांव में 100 बंद समर्थकों को गिरफ्तार किया गया. नवादा में भी प्रजातंत्र चैक जाम करते सैंकड़ों माले कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है. नवादा में बंद का नेतृत्व पार्टी के जिला सचिव नरेन्द्र कुमार व भोला राम कर रहे थे. जगदीशपुर में तकरीबन 60 बंद समर्थकों की गिरफ्तारी हुई.
सिवान में सैंकड़ों बंद समर्थकों ने जेपी चैक ओर गोपालगंज मोड़ को जाम कर रखा है. मोतिहारी में पार्टी के जिला सचिव प्रभुदेव यादव और भैरोदयाल सिंह के नेतृत्व में सैंकड़ों बंद समर्थक सड़क पर उतरे हुए हैं. गोपालगंज में एनएच 28 को जाम किया गया और पूरे शहर में सैंकड़ों बंद समर्थकों ने मार्च किया. पश्चिम चंपारण, वैशाली, भागलपुर, पूर्णिया, अररिया, बेगूसराय आदि जगहों पर भी बंद की वजह से आम जन जीवन पूरी तरह प्रभावित हुआ है.