बिहार में पर्यटन स्थलों को विकसित करेगा जापान

228
0
SHARE

पटना: भारत में जापान के राजदूत केजी हीरामत्सू ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात की। उनके साथ उनकी पत्नी पैट्रिसीया क्लारा हीरामत्सू और जापानी दूतावास के पहले सचिव रियोसकी कामोनो भी मौजूद थे। यह एक शिष्टाचार मुलाकात थी जो 1, अणे मार्ग में हुई थी। साथ ही नीतीश कुमार को जापान सरकार ने वहां आने का निमंत्रण दिया है।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जापानी राजदूत को बिहार में हो रहे विकास कार्यों की जानकारी दी। उन्होंने बिहार की सांस्कृतिक विरासत के बारे में बताया और कहा कि बिहार में बोधगया, नालंदा, राजगीर समेत ऐसे बहुत से दर्शनीय स्थल हैं, जिसको उन्हें देखना चाहिए और इसके लिए मुख्यमंत्री ने उन्हें एक बार फिर बिहार आने का आमंत्रण दिया।

मुख्यमंत्री ने उन्हें 1, अणे मार्ग परिसर में लगाये गये बोधि वृक्ष के दर्शन भी कराये. जापानी राजदूत की पत्नी ने बिहार के मधुबनी पेंटिंग की तारीफ की। इस मौके पर मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार समेत अन्य अधिकारी मौजूद थे।

वहीं जापान के राजदूत केंजी हीरामत्सू ने राज्यपाल रामनाथ कोविंद से राजभवन में मुलाकात की। मुलाकात के दौरान जापानी राजदूत ने कहा भगवान बुद्ध के जीवन दर्शन से प्रेरित-प्रभावित बिहार के प्रति जापानी जन मानस में सम्मान का भाव है। भगवान बुद्ध की सम्बोधि की भूमि बिहार के प्रति काफी श्रद्धा का भाव हर जापानी निवासी के हृदय में रहता है। उन्होंने कहा कि बिहार में बुद्ध परिपथ से जुड़े विभिन्न पर्यटन स्थलों के विकास में जापान की अभिरुचि है।