बिहार में मानव श्रृंखला के लिए ऐसी है तैयारी

937
0
SHARE

पटना: प्रकाश उत्सव और कालचक्र पूजा के सफल आयोजन से हो रही वाहवाही पर मकर संक्रांति के दिन हुए नाव हादसे ने पानी फेर दिया था। शनिवार को मानव श्रृंखला से पूरे देश में शराबबंदी के पक्ष में मजबूत मैसेज देने की कोशिश कर रही बिहार सरकार इस दौरान कोई चूक नहीं होने देना चाहती। इसके लिए मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह ने सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिया है।

मुख्य सचिव ने कहा है कि मानव श्रृंखला में शामिल होने के लिए किसी से जोड़ जबरदस्ती न की जाए। इसमें शामिल होने के लिए किसी पर दबाब नहीं दिया जाए। मुख्य सचिव का यह निर्देश इसलिए महत्वपूर्ण है कि कई जगहों से ऐसी खबर आ रही थी कि ऑफिसर स्कूल के बच्चों को मानव श्रृंखला में शामिल नहीं होने पर परिणाम भुगतने की धमकी दे रहे हैं।

अंजनी कुमार ने कहा कि लोग सहजता, सरलता और स्वेच्छा से मानव श्रृंखला का अंग बनें इसके लिए कोशिश करें। गाड़ी से दूरदराज से लाकर श्रृंखला में खड़ा करने की जगह स्थानीय लोगों को इससे जोड़ें।
बिहार में 21 जनवरी को बनने वाली मानव श्रृंखला के 11,292 किमी लंबी होने की संभावना है। इसमें दो से ढाई करोड़ लोग शामिल हो सकते हैं। मुख्य सचिव ने मानव श्रृंखला के अंत पर विशेष ध्यान देने को कहा है। उन्होंने कहा कि जबतक एक-एक व्यक्ति घर वापस न चला जाए पूरी सतर्कता रखी जाए।

मानव श्रृंखला की उपग्रह से 6 जिलों में फोटोग्राफी की जाएगी। सुबह 10:25 बजे इसरो का उपग्रह पटना, वैशाली, मुजफ्फरपुर, सीतामढ़ी, जहानाबाद और गया से गुजरेगा।

मुख्य सचिव ने इन जिलों के डीएम को निर्देश दिए हैं कि 9:00 से 10:40 बजे के बीच मानव श्रृंखला बनकर तैयार रहे। इसके साथ ही इंटरनेशनल सेटेलाइट साव बारह से एक बजे के बीच बिहार के ऊपर से गुजरेंगे और मानव श्रृंखला की फोटोग्राफी करेंगे।

वहीं पटना में मानव श्रृंखला की सुरक्षा के लिए दो हजार जवानों को तैनात किया जाएगा। स्टेट रैपिड एक्शन फोर्स की टीम को भी लगाया गया है। सीसीटीवी कैमरे से गांधी मैदान और उसके आसपास के इलाके की सुरक्षा की जाएगी।

गांधी मैदान के आसपास स्थित ऊंची इमारतों पर पुलिस के जवान तैनात रहेंगे। जाम लगते ही ट्रैफिक पुलिस के जवान पहुंचेंगे और तब तक तैनात रहेंगे जबतक ट्रैफिक की स्थिति सामान्य न हो जाए। साथ ही पटना के सभी सरकारी और प्राइवेट हॉस्पिटलों को अलर्ट किया गया है। हर दो किलोमीटर पर एक एंबुलेंस तैनात किया जाएगा।