बिहार में शराबबंदी का अंधा कानून : मंगल पांडेय

301
0
SHARE

पटना: भारतीय जनता पार्टी की 9 अगस्त से शुरू हुई तिरंगा यात्रा में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मंगल पांडेय शनिवार को समस्तीपुर पहुंचे। परिसदन में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान मंगल ने बिहार सरकार पर जम कर निशाना साधा।

उन्होंने कहा कि गोपालगंज में जहरीली शराब से हुई 19 लोगों की मौत की जवाबदेही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की है और उन्हें इसकी जवाबदेही लेनी होगी।

उन्होंने इस घटना को बिहार सरकार की असफलता बताते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से इस्तीफा मांगा। उन्होनें कहा कि इसके लिए दोषी कोई पुलिसकर्मी नहीं हो सकता।

बिहार में शराबबंदी लागू करने के लिए मुख्यमंत्री ने काला और अंधा कानून बनाया है इसके बावजूद शासन-प्रशासन और उत्पाद विभाग शराबबंदी लागू करने में विफल रही है।

मंगल पांडेय ने कहा कि अब तक जहरीली शराब पीने से चार महीने में 35 लोगों की मौत हो चुकी है। सभी घटना के बाद सरकार ने रिपोर्ट दबाने का प्रयास किया है। गोपालगंज वाली घटना के बाद मीडिया की सजगता की वजह से सरकार को ये बात स्वीकारनी पड़ी की मौत का वजह जहरीली शराब है।

तिरंगा यात्रा की शुरूआत भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मंगल पांडेय और सांसद नित्यानन्द राय ने जननायक कर्पूरी ठाकुर, बाबा साहब भीम राव अंबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर के शुरू की.