बैंककर्मी हत्याकांड में संलिप्त 3 अपराधी गिरफ्तार, छापेमारी जारी

606
0
SHARE

नालंदा – आखिरकार नालंदा पुलिस, नवादा पुलिस, शेखपुरा पुलिस तीनों ने मिलकर भी अपहृत बैंककर्मी को बचा न सकी। गौरतलब है कि पिछले 27 सितंबर को शेखपुरा से बिहार ग्रामीण बैंक में कार्य को समाप्त कर वापस नालंदा लौट रहे थे तभी खराट मोड़ नवादा जिले से बैंककर्मी का अपहरण कर लिया गया था। अपहरण के अगले दिन ही अपहरणकर्ताओं में परिजनों मोबाइल फोन पर अपहरण की सूचना दी थी। हालांकि पुलिस ने कार्रवाई करते अपहरण के अगले दिन ही बैंककर्मी का बैग राजगीर थाना क्षेत्र के बेलौर गांव से बरामद किया। वहीं पर से एक खोखा भी पुलिस ने बरामद किया था। जिसके बाद राजगीर थाना में मामला दर्ज किया गया।

स्थानीय लोगों की मानें तो बैंककर्मी की हत्या 28 सितंबर को कर दी गयी। जिसके बाद तिलैया डैम्प के पास बैंककर्मी का क्षत-विक्षत अवस्था में पुलिस ने शव को बरामद किया तस्वीर के आधार पर बैंककर्मी की शिनाख्त हो सकी है। पुलिस लगातार छह दिनों से अंधेरे में ही खाक छानती रही और अपहरणकर्ता ने अपना काम तमाम कर दिया।

घटना के बाद पूरे गांव में मातमी सन्नाटा पसर गया है। ग्रामीणों में इस घटना को लेकर काफी आक्रोश देखा जा रहा है। राजनेता भी बैंककर्मी के यहां जाकर कुछ नहीं कर सके।अपहरण के बाद मंत्री श्रवण कुमार और केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा भी परिजनों से मुलाकात कर हर सम्भव सहायता करने की बात कहीं थी लेकिन सारी बाते धरी की धरी रह गयी। पुलिस ने इस मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है और चार की गिरफ्तारी के लिये छापेमारी कर रही है।