भागलपुर में गंगा ने दिखाया रौंद्र रूप, गंगा ने 200 घरो को लिया अपने गोद में

473
0
SHARE

भागलपुर में देखा जा रहा है गंगा का रौद्र रूप और इस बार यह रूप बाढ़ के रूप में नहीं बल्कि कटाव के रूप में आई है। जी हाँ हम बात कर रहे है भागलपुर के कहलगावं के रानी दियारा की जहाँ गंगा से जबरदस्त कटाव हो रहा है और इस कटाव के कारण लगभग 200 घर गंगा में समा चुकी है। पिछले एक सप्ताह से देखते ही देखते एक पूरा का पूरा काली मंदिर, घर एवं स्कुल गंगा में विलीन हो गया है।

गंगा नदी में हो रहे इस कटाव का भीषण दृश्य को देख कर किसी के भी रोंगटे खड़े हो जायेंगे। कटाव को रोकने के लिए यहाँ कोई भी उपाय नहीं किये गए हैं। नतीजा, अभी तक 200 घर गंगा में विलीन हो गया है। कटाव से बचाव के लिए सरकारी
मदद नहीं पहुंची है…! कब पैर के नीचे से जमीन खिसक जाय ये किसी को पता नहीं।
गांवों और ग्रामीणों को बचाने को लेकर न केवल प्रशासनिक महकमा बल्कि जनप्रतिनिधि भी उदासीन हैं। काफी मलाल ग्रामीणों को है गंगा नदी के कटाव का
कहर न केवल रानी दियारा के खेतो में है बल्कि कटाव पूरी तरह से गावं में प्रवेश कर
गया है । लोग अब पलायन करने लगे है। खुद अपने हांथो से अपने घरों को उजाड़कर कहीं और शरण लेने को मजबूर हैं।
काली मंदिर ,मध्य विद्यालय एवं स्वास्थ्य केंद्र का भवन भी देखते ही देखते गंगा में विलीन
हो गया। पिछले एक सप्ताह में दो दर्जन से अधिक घर कटाव से कट कर विलीन हो गया है। जिसके कारण रानी दियारा गांव में दहशत का माहौल बना हुआ है।
अगर जल्द ही कटाव नहीं रोका गया तो हजारों घर गंगा में विलीन हो जाएगा और यही आलम रहा तो जल्द ही रानी दियारा के आस पास के
कई गावों का अस्तित्व समाप्त हो जाएगा ।