मंडप के बदले सजी अर्थी

477
0
SHARE

जहानाबाद – अपने जीवन के हसीन सपने सजोये और शादी का कार्ड बांट पटना से जहानाबाद लौट रहे युवक की पटना जिले की पोठही के पास गोली मारकर हत्या कर दी गई। मनीष अपनी शादी का कार्ड रिश्तेदार को देकर जहानाबाद के अपने गाँव खिदरपुरा लौट रहा था। वारदात देर शाम पटना से सटे पुनपुन और पोठही के बीच की है। ड्राइवर मनीष अपने भतीजे के साथ बाइक से जा रहा था। ओवरटेक कर अपराधियों ने बाइक को रोका और फिर लगातार दोे गोलियां उसके सीने में उतार दी। घटना में भतीजा बाल-बाल बचा है।

वहीं मनीष की आनन-फानन में पहले पुनपुन अस्पताल ले जाया गया, वहां से पीएमसीएच रेफर किया गया। लेकिन मनीष नहीं बच सका। बताया जाता है कि अपराधी मृतक मनीष व उसके भतीजे का पर्स, बैग, मोबाइल समेत अन्य कीमती सामान भी लूट कर ले भागे। अपराधी तीन की संख्या में थे और एक ही बाइक पर सवार थे। मृतक जहानाबाद के खिदरपुर निवासी सतेन्द्र सिंह का पुत्र मनीष उर्फ अभिषेक कुमार था। मनीष उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में रेलवे ड्राइवर है। मनीष की शादी इसी माह 23 नवंबर को होनेवाली थी।

इसी क्रम में व​ह अपने भतीजे के साथ अपनी शादी का कार्ड लेकर पुनपुन स्थित कमलपुरा गांव में एक रिश्तेदार को देने गया था। शादी कार्ड देकर वह जैसे ही एनएच पर पहुंचा कि बसुहार गांव के पास एक काले रंग की पल्सर बाइक पर सवार तीन बदमाशों ने पीछे से आकर उसकी बाइक को ओवरटेक कर घटना को अंजाम दिया। परिजनों के मुताबिक बदमाशों ने चार कीमती सेलफोन व एक बैग लेकर फरार हो गया। इधर घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस आनन-फानन में पुनपुन स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर गयी, जहां चिकित्सक रविशंकर प्रसाद ने युवक को मृत घोषित कर दिया। जबकि, पुनपुन पुलिस हंगामे के भय से लोगों को भ्रम में रखा। काफी देर के बाद युवक की मौत की बात स्वीकार की।

युवक की हत्या लूटपाट की नीयत से की गयी है। मृतक का बडा भाई रेलवे ग्रुप डी में कार्यरत है। मनीष की हत्या महज लूटपाट की वारदात के दौरान की गई है या फिर इसके पीछे कोई बड़ा कारण छिपा है। इस रहस्य का खुलासा पटना पुलिस की उचित जांच के बाद ही हो पाएगा।