मतदाता जागरूकता के लिए रात्रि चौपाल का आयोजन

185
0
SHARE

पटना – जैसे-जैसे मतदान की तिथियाँ निकट आ रही हैं वैसे-वैसे अधिक-से-अधिक मतदाताओं को मतदान केन्द्र तक लाने का प्रयास किया जा रहा है। जिला निर्वाचन पदाधिकारी-सह-जिलाधिकारी कुमार रवि के निर्देशानुसार महजपुरा पंचायत के महतपुरा गाँव में विक्रम प्रखंड एवम अन्य प्रखंडों में भी अंचलाधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारी, सेक्टर पदाधिकारी, प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी द्वारा उस पंचायत के स्थानीय मतदाताओं के मध्य मतदाता जागरूकता रात्रि चौपाल का आयोजन किया गया।

रात्रि चैपाल में युवा मतदाता से लेकर वरिष्ठ नागरिक उपस्थित थे। उन्हें लोकतंत्र के प्रति संवेदनशील किया गया। उन्हें बताया गया कि स्वस्थ लोकतंत्र के निर्माण हेतु मतदान कितना आवश्यक है। वहाँ उपस्थित दिव्यांग मतदाताओं के लिए सहज एवं सुगम मतदान के तहत उन्हें मतदान केंद्रों पर दी जाने वाली विशेष सुविधाओं यथा रैम्प, दिव्यांग जनों की अलग पंक्ति, ब्रेललिपि में ईपिक कार्ड, व्हील चेयर, विशेष वाहन आदि के विषय में जानकारियाँ दी गई।

उपस्थित मतदाताओं को बताया गया कि जिनका नाम मतदातासूची में दर्ज नहीं है उन्हें निराश होने की आवश्यकता नहीं है। वे अब भी अपना नाम मतदाता सूची में जुड़वा सकते है। साथ हीं, उन्हें 1950 टोल फ्री हेल्पलाईन नम्बर एवं वोटर हेल्पलाईन एप के बारें में बताया गया ताकि वे एक जिम्मेदार नागरिक बने एवं अपने मताधिकार के प्रति जागरूक होकर मतदान करें।

इस कार्यक्रम में विभिन्न वर्गो के मतदाताओं ने काफी उत्साह के साथ भाग लिया। विक्रम में जीविका दीदीयों द्वारा भी मतदान का शपथ एवं मतदाता जागरूकता संबंधी कार्यक्रम विभिन्न गाँवों में जाकर किया गया।

बाल विकास परियोजना पदाधिकारी के द्वारा विभिन्न आँगनबाड़ी सेविकाओं के माध्यम से मतदाता जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। उपस्थित सेविकाओं के माध्यम से मतदाता जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

उपस्थित स्थानीय महिला मतदाताओं को बताया गया कि अगर किसी मतदाता के पास वोटर कार्ड उपलब्ध नहीं है और मतदाता सूची में नाम दर्ज हैं तो वे आधार कार्ड के माध्यम से भी अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकते है।

मतदाता पहचान पत्र के विकल्प के रूप में बारह पहचान पत्र के बारे में जानकारियाँ दी गई। जिसे मतदाता मतदान के दिन अपने साथ ले जा सकते हैं एवं अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकते है। इस मतदाता जागरूकता कार्यक्रम में महिला मतदाताओं का उत्साह देखते बन रहा था। निश्चय ही, ये समस्त प्रयास पटना जिले के मतदान प्रतिशत को बढ़ाने एवं स्वस्थ लोकतंत्र के निर्माण में कारगर साबित होंगे।