महिलाओं को छेड़ता था बंदर, पुलिस ने किया गिरफ्तार

767
0
SHARE

अररिया: बिहार के अररिया जिले के बथनाहा गांव की औरतें बंदर से परेशान है। इस गांव में कहीं से भागकर एक बंदर घुस आया और गांव की महिलाओं के साथ ही आस-पास की महिलाओं को परेशान करता रहता था। बंदर इतना चालाक था कि वन विभाग की टीम के हाथ ही नहीं आता था। इस बंदर के कारण महिलाएं काफी परेशान रहती थीं।

बदमाश बंदर ने बथनाहा सहित आस-पास के क्षेत्र में अपने कृत्य से तबाही मचा रखी थी। पुरूषों को काट लेता था लेकिन महिलाओं को काटता नहीं था उनसे छेड़छाड़ करता था, जिससे महिलाएं डरी हुई थीं। लोगों ने मामले की सूचना स्थानीय वन विभाग के अधिकारियों को दी और फोरेस्टर के निर्देश पर विभागीय पदाधिकारी और कर्मियों ने कोशिश भी की मगर बंदर हाथ नही लगा।

बंदर के बढ़ते जुल्म को देखते हुए बथनाहा वन विभाग की टीम ने पटना वन विभाग की टीम से मदद मांगी जिसके बाद पटना वन विभाग की टीम बथनाहा पहुंची। वन विभाग पटना की टीम ने बंदर को बहुत ही मुश्किल से ट्रेंक्यूलाइजर गन से घायल कर उसे अपने कब्जे में लिया, कब्जे में लेने के बाद उस बेहोश बंदर को जल्द जाकर बेतिया के घने जंगलों मे छोड़ दिया।

बताया जाता है कि पकड़े जाने से पहले इस बंदर ने करीब डेढ़ सौ महिला और पुरूषों को निशाना बनाया था। बंदर के पकड़े जाने के बाद आस-पास को बंदर की तबाही से अब मुक्ति मिल गई है।

टीम में एक पदाधिकारी, एक चिकित्सक और एक शिकारी मौजूद थे। टीम का कहना था कि बंदर पूर्व में पालतू होने और किसी फैमिली में रहते हुए परिवारिक औरतों के साथ छेड़खानी की उसमें प्रवृत्ति आने की आशंका से इंकार नही किया जा सकता।