मानव श्रृंखला का विरोध करने वाले बिहार विरोधी और विकास विरोधी हैं- सेतु

320
0
SHARE

पटना- बिहार प्रदेश युवा जनता दल (यू) के प्रदेश प्रवक्ता ओमप्रकाश सिंह ‘सेतु’ ने कहा है कि मानव श्रृंखला का विरोध करने वाले बिहार विरोधी और विकास विरोधी हैं। उनके पास बिहार राज्य और यहां के लोगों व समाज के लिए न कोई दृष्टि है, न कोई योजना और न ही कोई कार्यक्रम। राज्य सरकार के प्रत्येक कामकाज की बुराई और विरोध करना ही उनका रोज का शगल है। रविवार की मानव शृंखला दहेज, बाल विवाह और कन्या भ्रूण हत्या जैसी सामाजिक बुराइयों के उन्नमूलन के पक्ष में बिहार के लोगों की एकजुटता को दिखलाने वाला कार्यक्रम है। इसका विरोध करने वाले लोग हमारे समाज को तरक्की करते हुए देखना नहीं चाहते। उनका मकसद है कि हम पिछड़े बने रहें, ताकि उनकी अराजकता चले और वे बिना किसी बाधा के अपना घर भरते रहें।

युवा जदयू प्रदेश प्रवक्ता ने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य को विकास की नई ऊंचाइयों पर पहुंचाया है। अब दहेज, बाल विवाह व कन्या भ्रूण हत्या जैसी सामाजिक बुराइयों का नाश करके असली और टिकाऊ तरक्की हासिल करने का सूत्र दिया है। बिहार की समस्त जनता मुख्यमंत्री के इस आह्वान के साथ है। रविवार 21 जनवरी को बिहार के लोग रिकार्ड संख्या में शामिल होकर इस मानव शृंखला को सफल करेंगे। पूर्ण शराबबंदी के पक्ष में पिछले वर्ष आयोजित मानव शृंखला से भी ज्यादा लोग इस बार भाग लेकर ज्यादा लंबी शृंखला बनाएंगे। पूरी दुनिया बिहार की एकजुटता देखेगी।

ओमप्रकाश सिंह ‘सेतु’ ने कहा कि मानव शृंखला में अधिकाधिक लोगों की भागीदारी के लिए बिहार भर में युवा जदयू कार्यकर्ताओं ने कॉलेजों, यूनिवर्सिटियों, छात्रावासों में और घर-घर संपर्क किया है। रविवार को पूरे प्रदेश में सभी महत्वपूर्ण स्थानों पर युवा जदयू कार्यकर्ता तैनात रहकर बच्चों, बुजुर्गों, महिलाओं और प्रशासन की मदद करेंगे।