मुख्यमंत्री ने सुप्रसिद्ध हिन्दी साहित्यकार एवं वरिष्ठ कवि केदारनाथ सिंह के निधन पर गहरी शोक संवेदना व्यक्त की

248
0
SHARE

पटना – मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सुप्रसिद्ध हिन्दी साहित्यकार एवं वरिष्ठ कवि केदारनाथ सिंह के निधन पर गहरी शोक-संवेदना व्यक्त करते हुये उन्हें श्रद्धांजलि दी। अपने शोक-संदेश में मुख्यमंत्री ने कहा है कि केदारनाथ सिंह हिन्दी के प्रख्यात साहित्यकार एवं वरिष्ठ कवि थे। वर्ष 2013 में हिन्दी साहित्य के क्षेत्र में केदारनाथ सिंह जी की सेवाओं के लिए उन्हें साहित्य के सबसे बड़े सम्मान ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। इसके अलावा उन्हें साहित्य के क्षेत्र में अनेक राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय सम्मानों से पुरस्कृत किया गया था।

उन्होंने कहा कि वे बिहार राजभाषा पुरस्कार चयन समिति के अध्यक्ष भी थे। बिहार से उनका गहरा नाता रहा है। साहित्य के क्षेत्र में अहम योगदान के लिए उन्हें बिहार के दिनकर सम्मान से भी सम्मानित किया गया था। सरल भाषा में जीवन की जटिलताओं की अभिव्यक्ति करने की उनकी अनुठी शैली थी। वे जीवन में गहरी आस्था रखने वाले कवि थे और जमीनी हकीकत को कविता के माध्यम से अभिवयक्त करते थे। वे जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय में भारतीय भाषा केन्द्र के हिन्दी भाषा विभाग में प्रोफेसर रहे थे। उनके निधन से साहित्य खासकर हिन्दी साहित्य के क्षेत्र को अपूरणीय क्षति हुई है। मुख्यमंत्री ने दिवंगत आत्मा की चिर शान्ति तथा उनके परिजनों, अनुयायियों एवं प्रशंसकों को दुःख की इस घड़ी में धैर्य धारण करने की शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की है।