यूथ ब्रिगेड – एक अनोखी पहल!

139
0
SHARE

दिलीप कुमार

कैमूर – जहां बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शराबबंदी को लेकर अभियान चला रहे हैं उन्हीं के अभियान को आगे बढ़ाते हुए बिहार सैन्य डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने आज कैमूर के शहीद संजय सिंह महिला महाविद्यालय में नारी सशक्तिकरण के तहत शराबबंदी को लेकर एक मुहीम चलाया। जहां कैमूर जिला अधिकारी नवल किशोर चौधरी, एसपी मोहम्मद फरीदउद्दीन, भभुआ एसडीएम कुमारी अनुपमा सिंह सहित जिले के तमाम वरीय पदाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारियों के साथ-साथ विद्यालय के सैकड़ों छात्राओं ने इस कार्यक्रम में भाग लिया।

कार्यक्रम के माध्यम से डीजीपी पांडे ने बच्चों में शराबबंदी को लेकर एक नया जोश जगाया। डीजीपी पांडे ने कहा कि इन बच्चियों के माध्यम से कानून को मजबूत बनाया जा रहा है। कानून के पीछे जनता का सहयोग जरूरी है तो कानून के पीछे जनता का समर्थन हो तो कानून बहुत प्रभावशाली हो जाता है।

उन्होंने कहा कि शराब जो है यह हमारे सनातन संस्कृति के खिलाफ है इससे चरित्र का पतन होता है इसे नैतिक पतन होता है। इच्छा शक्ति संकल्प शक्ति का नाश होता है, शरीर का नाश होता है, मन बिगड़ता है, बुद्धि बिगड़ता है और आदमी का चरित्र गिर जाता है। कई तरह के पाप और अत्याचार इसका कारण है। सरकार ने जो शराबबंदी का निर्णय लिया सरकार के इस निर्णय को जनता का जितना ही समर्थन होगा उतना ही यह कानून शक्तिशाली होगा। इसलिए सरकार चाहती है कि जन जागरण के माध्यम से जनता को जगाया जाए नौजवानों को लड़कियों को महिलाओं को। 50% हमारी महिलाएं हैं जब तक महिलाओं का साथ नहीं होगा हमारा कोई भी कार्यक्रम पूरा नही होगा। इस साल के अंत तक सैन्य पुलिस द्वारा 500 जन जागरण किया जाएगा।

पांडे ने बताया कि हम एक सौ जन जागरण करेंगे। उसके साथ-साथ मेरे अधिकारी और जागरण करेंगे साथ ही पांडे ने कहा कि अभियान सैन्य पुलिस का है। यह मेरा पर्सनल अभियान नहीं है। सैन्य पुलिस के डीजीपी होने के कारण इस कार्यक्रम में पुलिस बटालियन पुलिस का अभियान है मेरे पास 19 हजार जवान है। इस कार्यक्रम का हमलोगों ने पटना से शुरुआत किया है और 40 जिलों में कार्यक्रम किया जाएगा।

पांडे ने कैमूर की बच्चियों को तेजस्वी, उर्जावान बच्चियां बताया। उन्होंने कहा कि केवल कॉलेज की बच्चियां खड़ी हो जाए तो कैमूर में जिला प्रशासन की बहुत बड़ी ताकत बनेगी। कोई भी माई का लाल पूरे कैमूर में शराब नही बेचेगा और नही शराब पिएगा। हम आज आह्वान करते हैं कि यूथ ब्रिगेड 40 जिले में बनेगा। जो बिहार को पूर्ण रूप से नशा मुक्त करने का काम करेगी।

वहीं स्कूल की छात्रा प्रीति कुमारी ने कहा कि हमलोग को इस कार्यक्रम से लोगों को जागरूक करना है। शराबबंदी को लेकर सबको जागरूक करना है कि शराब जो है आदमी को खोखला कर देता है, नष्ट कर देता है, इसे समाज गंदा होता है लोग गंदे हो जाते हैं। कहा कि शराबबंदी बहुत जरूरी है अगर इस तरह का प्रयास किया जाए तो जरूर शराबबंदी हो जाएगी हम सब लोग को मिलकर सहयोग करना चाहिए।

वहीं प्रिया कुमारी ने कहा कि शराब नहीं पीना चाहिए शराब पीने से लोगों का लाइफ बर्बाद हो जाता है सभी लोग हम लड़कियों को मिलकर के नशा को बंद कर देना चाहिए। नशा मुक्ति लागू होना चाहिए इससे बहुत फायदा है शराब पीकर के लोग घर की औरतों को मारते हैं। घर में आकर मारपीट करते हैं घटनाएं घटती रहती है।