राजद और कांग्रेस का बिहार विरोधी चेहरा उजागर हो गया- सेतू

182
0
SHARE

पटना- बिहार प्रदेश युवा जनता दल (यू) के प्रदेश प्रवक्ता ओमप्रकाश सिंह सेतु ने कहा है कि जो लोग राजनीति के नाम पर बेहिसाब संपत्ति सृजन करते हैं तथा सामाजिक उन्माद पैदा करके व दंगाइयों को संरक्षण देकर समाज में दुर्गंध फैलाते हैं, ऐसे लोगों और समूह से दहेज व बाल विवाह जैसी सामाजिक कुरीतियों को समाप्त करने में किसी सहयोग की उम्मीद करना ही बेकार है। दहेज और बाल विवाह उन्नमूलन के पक्ष में आयोजित मानव श्रृंखला का राजद और कांग्रेस द्वारा विरोध करने से उनके जन विरोधी, बिहार विरोधी और सुधार विरोधी चेहरे उजागर हो गए हैं। ऐसा लगता है कि इन्हें विकासशील बिहार की सामाजिक प्रगतिशीलता पसंद नहीं आ रही है।

युवा जदयू प्रवक्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के प्रयास से तेज तरक्की कर रहे बिहार का समाज समय के अनुसार अपने में बदलाव भी लाने को तैयार हो रहा है। पहले मुख्यमंत्री के पूर्ण शराबबंदी के कानून को पूरे राज्य की जनता ने व्यापक समर्थन देकर सफल किया। उससे बिहार में जबरदस्त सामाजिक बदलाव आया। अब नीतीश कुमार के आह्वान पर बिहार के लोग दहेज और बाल विवाह उन्नमूलन के लिए एकजुट हो रहे हैं। मगर यह एकजुटता और बदलाव राजद व कांग्रेस जैसी पार्टीयों को पसंद नहीं आ रही है। इन दलों को बताना चाहिए कि बिहार की प्रगति से इन्हें परहेज क्यों है और क्यों ये बिहार को पुराने ढर्रे पर ही चलाना चाहते हैं।