राजद विधायक के पुत्र को भेजा जेल

948
0
SHARE

औरंगाबाद: बिहार के औरंगाबाद जिले के दाउदनगर थाना क्षेत्र के एनएच 98 के अंतर्गत पटना रोड के लीला गाँव के पास अपनी कार को ओवरटेक करने नहीं देने पर ओबरा से राजद विधायक वीरेंद्र सिन्हा के पुत्र कुणाल प्रताप ने एक युवक को कथित तौर पर छुरा घोंप देने के आरोप में बीती रात्रि न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।

विधायक के गांव भगवानबिगहा निवासी पिंटू यादव पर चाक़ू से हुए हमला के मामले में मुख्य आरोपी कुणाल ने देर रात थाने में सरेंडर कर दिया था। बाद में घायल युवक पिंटू के परिजनों के बयान के आधार पर दर्ज हुई प्राथमिकी के उपरान्त ओबरा के राजद विधायक बीरेंद्र कुमार सिन्हा के मुखिया पुत्र कुणाल प्रताप को दाउदनगर पुलिस ने आज कोर्ट में पेश किया।

पेशी के बाद पुलिस ने कोर्ट के आदेशानुसार कुणाल को मंडल उप कारा भेज दिया। हालांकि विधयक पुत्र ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को बेबुनियाद तथा निराधार बताया है। और कहा है कि उन्हें बिना वजह फंसाया जा रहा है। वहीं पिंटू के चाचा ने कहा कि विधायक पुत्र ने ओवरटेक करने के क्रम में चाकू से वार किया है।

पुलिस अधीक्षक सत्यप्रकाश ने शनिवार बताया कि इस मामले में अकोरहा पंचायत प्रमुख कुणाल प्रताप को बीती रात्रि न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। उन्होंने बताया कि घायल युवक पिंटू यादव अब खतरे से बाहर है। उसे पूर्व में इलाज के लिए दाउदनगर प्राथमिकी स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया था। उसकी गंभीर स्थिति को देखते हुए उसे पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल रेफर कर दिया गया।

सत्यप्रकाश ने बताया कि पिंटू द्वारा दर्ज कराई गयी प्राथमिकी में हालांकि कुणाल पर ओवरटेक नहीं करने देने के कारण उन्हें छुरा घोंप देने का आरोप लगाया है पर ऐसा प्रतीत होता है कि दोनों एक ही गांव भगवान बिगहा के हैं और उनके बीच पुरानी रंजिश को लेकर यह घटना घटी होगी। उन्होंने कहा कि यह रोडरेज का मामला नहीं है। दोनों एक-दूसरे को अच्छी तरह जानते हैं और उनके बीच संभवत: चुनाव से संबंधित पुरानी रंजिश रही है।