राजनीती नहीं रेल नगरी का विकास ही मोर्चा का लक्ष्य : पप्पू यादव

735
0
SHARE

जमालपुर(प्रिंस दिलखुश): जमालपुर में रेलवे विश्वविद्यालय की घोषणा,कारखाना को निर्माण कारखाना का दर्ज़ा,सफियाबाद हाल्ट की पुनः स्थापना,वाईलेग पर रेलवे स्टेशन का निर्माण,अप्रेंटिस की बहाली में निरंतरा बनाये रखने सहित रेल से जुड़े अन्य सवालो को लेकर जमालपुर रेल निर्माण कारखाना संघर्ष मोर्चा के संयोजक सह समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष पप्पू यादव के नेतृतव में शामिल विभिन्न राजनीतिक व सामाजिक संगठनो के प्रतिनिधियों ने स्थानीय जुबली वेल चौक पर एक दिवसीय धरना देकर कारखाना के विकास एवं रेल से जुड़े सवालो पर जमकर भड़ास निकाली।

धरनास्थल से मोर्चा के संयोजक सह सपा के जिलाध्यक्ष पप्पू यादव ने आमजन को संबोधित करते हुए कहा कि आज जमालपुर रेल कारखाना का 156वाँ स्थापना दिवस है।वावजूद कारखाना निरन्तर हास् हो रहा है।जहाँ भारतीय रेल के दूसरे कारखाना लगातार विकास कर रहे है।वहीँ जमालपुर कारखाना क्षेत्रीयवाद का शिकार हो रहा है।आखिर इसके जिम्मेवार कौन है।उन्होंने कहा कि मोर्चा का लक्ष्य राजनीती नही बल्कि रेल नगरी का विकास है,और मन में है विश्वास,पूरा है विश्वास हम होंगे कामयाब।

वहीँ मोर्चा के सहसंयोजक एवं राजद के जिला महासचिव कन्हैया सिंह ने जमालपुर कारखाना के साथ लगातार भेदभाव का आरोप लगाते हुए कहा कि एशिया महादेश का सबसे बड़ा रेल कारखाना आज बदहाली के कगार पर पँहुच गया है।जबकि पदाधिकारी लूट-खसोट के मनोयोग में लगे हुए है।उन्होंने कहा कि यदि हमारी मांग पर रेल प्रशासन ने संज्ञान नही लिया तो आर-पार की लड़ाई का शंखनाद होगा।

वहीँ मोर्चा के प्रवक्ता सह भाजपा नेता निशुतोष कुमार निशु ने कहा कि रेल अधिकारियों के क्षेत्रीयतावाद के नीतियो के कारण ही आज जमालपुर शहर उपेक्षित है।पिछले दिनों शिक्षा का ऐतिहासिक धरोहर एससीआरए का यहाँ से जाना भी इसी की एक कड़ी है।लेकिन हम मोर्चा का उद्देश्य रेलवे का विकास है।और मोर्चा इससे कवी पीछे नही हटेगा।

धरना प्रदर्शन को संबोधित करते हुए कांग्रेस(ई) अति पिछड़ा प्रकोष्ठ के प्रदेश महासचिव हरिप्रसाद महतो ने जमालपुर कारखाना के विकास के लिए क्षेत्रीय प्रतिनिधि को दोषी ठहराते हुए कहा की जिस मुद्दे पर विकास की बात करनी चाहिए उस मुद्दे पर भी राजनीती कर आमजन की भावनाओं पर कुठाराघात किया जा रहा है।

सीपीआई के आंचल सचिव मुरारी प्रसाद ने कहा कि मोर्चा के प्रयास का ही परिणाम है,हम लोगो ने रेल से जुड़ी समस्याओं को रेल राज्यमंत्री तक पंहुचाने का काम किया परंतु रेल अधिकारियों के तानाशाही एवं गलत नीतियों के कारण हमारी मांग जस की तस पड़ी है।

धरना प्रदर्शन को मजदूर नेता सुधीर प्रसाद यादव,मो.आजम,भाजपा के अजय वर्मा,राजद के मनोज मंडल,मो.मुख़्तार आदि ने भी संबोधित किया।

धरना प्रदर्शन में मुख्य रूप से गौरव कुमार,पप्पू मंडल,शैलेश प्रजापतिमनोज क्रांति, राजकुमार शर्मा,सुजीत कुमार शर्मा,मो.मंजर आलम,नकुल यादव,श्रवण साह, दिलीप शर्मा,रोहन,सीताराम पोद्दार,राजेश कुमार चौरसिया,रामनारायण,बिपिन कुमार सिन्हा,सत्यजीत कुमार,मुकेश कुमार, उत्तम कुमार,अलोक कुमार,हरिप्रकाश,अमित राज,छोटू कुमार,डब्लू यादव,देवन यादव,सुरेश प्रसाद यादव,शदाब अंसारी,सुधीर कुमार गुप्ता,सुलेचन तांती,अमित कश्यप,गुलशन मंडल सहित मोर्चा के अन्य समर्थक उपस्तिथ थे।