राबड़ी देवी को किसने लिखा पत्र ?

206
0
SHARE

पटना – मुजफ्फरपुर बालिका गृह मामले में राजनीति कम होने का नाम ही नहीं ले रहा. पार्टी लगातार एक दुसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगा रही है. इसी मुद्दे को लेकर आज नेता प्रतिपक्ष दिल्ली के जंतर-मंतर पर धरना पर बैठेंगे जिसमें कांग्रेस नेता राहुल गांधी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी शामिल होंगे. तो वहीं आज जदयू की महिला प्रवक्ताओं ने बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी को खुला पत्र लिखा है. पत्र में उन्होंने आरजेडी पार्टी से दागदार चरित्रवालों को निकालने की नसीहत दी है.

जदयू महिला प्रवक्ता अंजुम आरा, श्वेता विश्वास और डॉ.भारती मेहता ने राबड़ी देवी को पत्र लिखा है. पत्र में उन्होंने लिखा है कि एक महिला होने के नाते एक लड़की का दर्द समझ सकती हैं बल्कि माँ के कर्तव्य का भी बोध कर सकती हैं. राजनीति में रहने की वजह से आप राजनीति को भी जानबूझ रही होंगी.

पत्र में महिला प्रवक्ताओं ने यह भी लिखा कि पुत्र तेजस्वी यादव और तेजप्रताप को कम उम्र में ही दिल्ली में किए गये छेड़खानी की कीमत चुकानी पड़ी थी. उन्होंने राबड़ी पर आरोप लगाते हुए कहा कि इस मामले में आपलोगों को अंकुश लगाना चाहिए था लेकिन आपलोगों ने नहीं लगाया.

पत्र में महिला प्रवक्ताओं ने राजद विधायक राजबल्लभ यादव और तेजस्वी के निजी सहायक मणि यादव का जिक्र करते हुए लिखा है कि यह संस्कार का परिणाम है कि तेजस्वी ने अनैतिक देह व्यापर में संलिप्त मणि यादव को अपना निजी सहायक बना लिया.

बता दें कि बीते शुक्रवार को जदयू प्रवक्ता नीरज सिंह ने तेजस्वी के निजी सहायक पर अनैतिक देह व्यापार का गंभीर आरोप लगाया है साथ में तमाम दस्तावेजों के साथ उसे प्रमाणित भी किया है.