रामकृपाल यादव का नीतीश पर हमला, कहा- नीतीश को काशी जाने की इतनी हड़बड़ी क्यों ?

399
0
SHARE

पटना: पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मिशन 2019 की शुरुआत तो कर दिया। बनारस की रैली में नीतीश कुमार ने भाजपा पर जमकर हमला बोला। शबाबंदी पर बोलते हुए कहा कि भाजपा शराबबंदी पर अपना नीति स्पष्ट करें। इस पर विपक्ष कहां चुप बैठने वाला था।

भाजपा के वरिष्ठ नेता नंदकिशोर यादव ने नीतीश पर हमला करते हुए कहा कि नीतीश भाजपा से क्यों पूछ रही है। नीतीश पहले अपने गठबंधन दलों के राज्य में शराबबंदी लागू करे। बनारस में जाकर हूंकार भरते है पर मुलायम सिंह और मायावती को क्यों नहीं कहा शराबबंदी लागू करे।

केंद्रीय राज्य रामकृपाल यादव ने जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार द्वारा उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिये पार्टी का बिगुल फूंके जाने तथा शराबबंदी को लेकर उनके देश भ्रमण पर कटाक्ष करते हुए आरोप लगाया कि शराबबंदी के नाम पर अंगुलीमाल से बाल्मीकि बनने की चाहत में मुख्यमंत्री भारत दर्शन यात्रा पर हैं।

रामकृपाल यादव ने गुरुवार को एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर सवाल किया, नीतीश को काशी जाने की इतनी हड़बड़ी क्यों थी? शास्त्रों के अनुसार लोग काशी कब और क्यों जाते हैं? यह जरूर पता होगा जदयू के नेताओं को। अभी तो बिहार में पांच साल का शासन पूरा करना। अभी से राजनीतिक मोक्ष की प्राप्ति की बेचैनी कैसी?’

उन्होंने आरोप लगाया कि नीतीश ने जीवन भर धकेलने पर चलने वाली गाड़ी पर बैठ कर राजनीतिक यात्रा की। हमेशा वैशाखी के सहारे सत्ता में बने रहे और आज भी वैसे (राजद और कांग्रेस के सहारे) ही सत्ता में बने हुए हैं और चले हैं नरेंद्र मोदी को चुनौती देने.।

पाटलीपुत्र संसदीय क्षेत्र से भाजपा सांसद रामकृपाल ने आरोप लगाया कि अगर शराबबंदी उनका राजनीतिक एजेंडा था और वह गांधीवादी सिद्धांत के अनुनायी थे तो 2005 में सत्ता में आते ही बिहार में पूर्ण शराबबंदी लागू क्यों नहीं की?

रामकृपाल ने यह भी कहा कि नीतीश ने सत्ता में आते ही शराब से प्राप्त राजस्व को 300 करोड़ रुपये से बढ़ाकर 4,000 करोड़ रुपये से अधिक करने हेतु उत्पाद नीति में बदलाव किया। न्यूनतम बिक्री कोटा से अधिक बेचने पर कम एक्साइज डयूटी का प्रावधान कर शराब को गांव-गांव बिकवाया, नौजवानों की पूरी नस्ल को बर्बाद किया। बिहार में पुस्तकालय नहीं खुले पर मदिरालय जरूर खोल दिये गये। अब सत्तर चूहे खाकर बिल्ली हज को चली है।

शराबबंदी के मामले पर शहनवाज हुसैन ने भी नीतीश कुमार पर हमला बोलते हुए कहा कि नीतीश जी पहले यह तो बताइए की बिहार अपराधमुक्त कब होंगे। बेरोजगार मुक्त कब होगा। फिर आप शराब मुक्त समाज बनाइएगा।