राष्ट्र कवि रामधारी सिंह दिनकर के 111वें जन्मदिन के मौके पर कवि सम्मेलन का होगा आयोजन

103
0
SHARE

पटना – पटना विश्वविद्यालय के पूर्ववर्ती छत्तीसगढ़ व राष्ट्र कवि रामधारी सिंह दिनकर जी के 111वें जन्म जयंती माह पर बापू सभागार में कवि सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है। इसमें ख्याति प्राप्त कवि कुमार विश्वास मुख्य कवि के रूप में मौजूद रहेंगे। राष्ट्रकवि दिनकर जी के अनछुए पहलुओं को साझा करने के लिए उनके परिजन मैजूद रहेंगे। उक्त बातें बुधवार को होटल विंडसेट में आयोजित प्रेस वार्ता में पटना विश्वविद्यालय छात्रसंघ निवर्तमान अध्यक्ष दिव्यांशु भारद्वाज ने कही।

उन्होंने कहा कि कवि सम्मेलन में राष्ट्रकवि के व्यक्तित्व व कृतित्व भी विशेषज्ञ जन प्रकाश डालेंगे। केंद्रीय राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे, राज्यसभा सांसद डॉ. सी.पी. ठाकुर, सहित अन्य गणमान्य लोग मौजूद रहेंगे। कार्यक्रम अपराह्न 04:00 से प्रारंभ होगा।

छात्रसंघ के बैनर तले आयोजन से मनाही विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. रासबिहारी प्रसाद सिंह के करने के प्रश्न पर कहा कि ‘दिनकर जी’ विश्वविद्यालय के पूर्ववर्ती छात्र रहे हैं। उनपर आयोजित कार्यक्रम का विरोध समझ से परे है। कार्यक्रम की रूपरेखा चार माह पहले ही बनी थी। कुलपति महोदय को कार्यक्रम की पूरी जानकारी दी गई थी। राष्ट्रकवि के आगे बैनर कोई मायने नहीं रखता है। कार्यक्रम में सम्मिलित होने के लिए कुलपति, सभी शिक्षकों, कर्मचारियों व विद्यार्थियों को आमंत्रित किया गया है। विश्वविद्यालय के छात्र-छात्राएं अपने अपने कॉलेज पहचान पत्र पर भी कार्यक्रम में प्रवेश प्राप्त कर सकते हैं।

कार्यक्रम को सफल बनाने में विश्वविद्यालय के शिक्षक, कर्मी व विद्यार्थियों का भरपूर सहयोग मिल रहा है। दिनकर जी जैसी शख्सियत पर राजनीति किसी के भी हित में नहीं है।

प्रश्न यहाँ छात्रसंघ भंग करने का है तो कुलपति को विशेषाधिकार है। निर्दलीय जितने के बाद निर्वाचन रद्द कर दिया गया। कोर्ट के आदेश पर अध्यक्ष का शपथ लिया। जरूरत पड़ने पर कोर्ट का दरवाजा सबके लिए खुला है। उन्होंने कहा कि दिव्यांशु भारद्वाज, प्रो. शशि शर्मा पर कुलपति के कार्यवाही का क्या हश्र हुआ सभी लोगों को मालूम है। यदि कुलपति राष्ट्रकवि दिनकर जी पर भी ओछी राजनीति करेंगे तो इतिहास माफ नही करेगा। प्रेस वार्ता में कोषाध्यक्ष नितीश कुमार,आशीष पुष्कर, आदि मौजूद थे।