रोजगार मेला एवं कौशल प्रदर्शनी में अंतिम दिन पहुंचे कई नेता

320
1
SHARE

छपरा- रोजगार मेला एवं कौशल प्रदर्शनी के दूसरे और अंतिम दिन बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी और केन्द्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान पहुंचे छपरा के राजेन्द्र स्टेडियम, श्रम संसाधन मंत्री विजय कुमार सिन्हा, स्थानीय भाजपा सांसद राजीव प्रताप रूडी, सांसद जनार्धन सिंह सिग्रीवाल, विधायक डॉ सीएन गुप्ता, शत्रुध्न सिंह, सहित कई नेता मौजूद है।

बिहार के युवाओं का लोहा हम ही नहीं बल्कि पूरे विश्व के लोग मानते हैं शायद यही कारण है कि यहां के युवा प्रशिक्षण ले या न ले लेकिन अपनी प्रतिभा के बदौलत विश्व के हर क्षेत्र में अपना डंका बजाकर बिहार का नाम रौशन करते हैं, उक्त बातें केंद्रीय पेट्रोलियम सह कौशल विकास उद्यमिता मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने रोजगार मेला सह कौशल प्रदर्शनी के समापन समारोह के दौरान छपरा के राजेंद्र स्टेडियम में कहा।

शायद बिहार में इतनी बड़े रोजगार मेला का आयोजन नहीं हुआ था। दो दिवसीय इस मेले में लगभग 12 हजार युवाओं ने अपना पंजीयन कराया है जिसमें 110 से ज्यादा कंपनियां आई हुई हैं जो यहा के युवाओं को रोजगार देने का काम करेंगी।

प्रधान ने कहा कि छपरा, पटना सहित कई अन्य क्षेत्रों में जापानी भाषा सिखाने के लिए एक केंद्र खोलने की दिशा में लगे हुए हैं जहां से प्रशिक्षण प्राप्त कर यहाँ के युवा विदेशों में जाकर नौकरी कर सकते हैं।

वहीँ बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि बिहार के वैसे युवा जो बीए/बीएससी/बीकॉम पास कर चुके हैं उन्हें मात्र 5 हजार रुपये की नौकरी नहीं मिल रही है, वहीं दूसरी ओर यहाँ के युवा किसी निजी संस्थान से ड्राइवरी का ट्रेनिंग ले लेता है तो उसे 10 से 12 हजार रुपये की नौकरी आसानी से मिल जाती है। बिहार में कोई सरकारी वैकेंसी निकलती है तो एम ए और पीएचडी शिक्षा प्राप्त युवा आवेदन करते हैं। इन्ही सब कारणों से बिहार की सरकार और केंद्र सरकार मिलकर हुनर का विकास करने में लगी है।

वहीं सारण के विकास क्षेत्र में कार्य कर रही मढ़ौरा स्थित डीजल इंजन कारखाना के बारे में बोलते हुए कहा कि इंजन कारखाना बन कर तैयार हो गया है और 8 से 9 महीनों के अंदर उत्पादन भी शुरू हो जायेगा।