लखीसराय की खबरें

967
0
SHARE

निषाद, साहनी, बिन्द, बेलदार, नोनीया, केवट आदि, समाज के लोगो को एकमंच पर लाने का उद्देश्य से किया गया बैठक

लखीसराय- जिले के निषाद विकास संघ के जिलाध्यक्ष रामबृक्ष बिन्द के नेतृत्व में रविवार को स्थानीय नया बाजार धर्मशाला के प्रांगण में संघ की आपसी एकता और अखण्डता को दिशा देने के लिए एक अहम बैठक की गई। जिसमें कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए। जिले भर से अरमा, लखना, मुस्तफापुर, अलीनगर के साथ-साथ कई अन्य गांवों में घुम-घुम कर लोगों से आग्रह किया जाए कि निषाद विकास संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष सन् आॅफ मल्लाह मुकेश साहनी का आगमन पर अधिक से अधिक लोग जुटकर अपना एकता का परिचय दे।

जिसमें निषाद विकास संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष सन् आफ मल्लाह मुकेश साहनी जी एक दिवसीय कार्यक्रम में लखीसराय के टाउन हॉल में आयोजित करेगें। कार्यक्रम की तैयारी व जिला, प्रखंड,पंचायत स्तरीय निषाद विकास संघ की कमिटी का गठन करने पर विस्तार पूर्वक चर्चा किया गया। जानकारी के अनुसार आगामी 14 अक्टूबर को भगवान राम की तपोभूमि लखीसराय जिला के टाउन हाॅल में एक दिवसीय कार्यक्रम में शिरकत करने आ रहे हैं।

संघ के नेता सकलदेव बिन्द ने बताया कि निषाद विकास संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष साहनी ने कार्यक्रम के माध्यम से निषाद, साहनी, बिन्द, बेलदार, नोनीया, केवट आदि समाज के लोगो को एकमंच पर लाने व अपनी ताकत का एहसास कराने के उद्देश्य से कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है।

निषाद विकास संघ के सदस्य अरबिंद बिन्द ने लोगो से आह्वान करते हुए कहा कि समाज के उत्थान के लिए आप सभी ग्रामीण उक्त कार्यक्रम में जरूर से जरूर भाग लेकर कार्यक्रम को सफल बनावें। जनसंपर्क में लखीसराय जिला विकास संघ के पूर्व वकील बिन्द, प्रो0 इन्दु भूषण, जवाहर महतो, राजकिशोर मंडल, रामाशिष बिन्द, सकलदेव बिन्द, बालेश्वर बिन्द सहित सैकड़ो कार्यकर्ता के अलावे समाज के लोग शामिल थे।

बिहार सरकार के महत्वाकांक्षी योजना, सात निश्चय, शराबबंदी को लागू करने, बाल विवाह एवं दहेज प्रथा की उन्मूलन के लिए जदयू कि बैठक

लखीसराय- जिले के जदयू कार्यालय हनुमान नगर में रविवार को बिहार प्रदेश जदयू के कैलेंडर अनुसार 08-10-2017 को जिलाध्यक्ष जदयू रामानंद मंडल की अध्यक्षता बैठक हुई। जिला जदयू कार्यालय में बिहार सरकार के महत्वाकांक्षी योजना, सात निश्चय, शराबबंदी को लागू करने, बाल विवाह एवं दहेज प्रथा की उन्मूलन के लिए संगठन के सभी प्रकोष्ठों के साथ शत प्रतिशत धरातल पर क्रियान्वयन के लिए अहम बैठक हुई।

बैठक में सभी जिला पदाधिकारी, प्रकोष्ठ के अध्यक्ष, सभी प्रखंड अध्यक्ष, कार्यकारिणी एवं सभी बरिष्ट नेता उपस्थित हुए। बैठक में बाल विवाह एवं दहेज प्रथा उन्मूलन, सात निश्चय, शराबबंदी सदस्यता अभियान आदि पर चर्चा हुई।

इस मौके पर बिहार प्रदेश जद यू नेता अनिल कुमार साहु, नवल किशोर महतो, अमरेश कुमार अनिश, सत्यनारायण महतो, यमुना पंडित, परमानंद सिंह, जिला महा सचिव नन्दकुमार साह, सत्यदेव आर्य, कपिलदेव महतो, सुरेश प्रसाद वर्मा, अंजना देवी, प्रकोष्ठ अध्यक्ष अजीत कुमार, जिला व्यवसायिक प्रकोष्ठ के जिला अध्यक्ष शत्रुधन प्रसाद उर्फ सातो बाबू, विवेक राणा, रौशन कुमार, विजय साहनी, दीपक मंडल, अजय कुमार, कारेलाल राय, राजीव रंजन, प्रवीण कुमार, योगेन्द्र मंडल, देवकी नंदन मंडल सहित सैकड़ो कार्यकर्ता मौजूद थे।

स्थानीय नागरिकों ने संथाली युवक को बच्चा चोरी करने के आरोप में जमकर कि पिटाई

लखीसराय- जिले के कबैया थाना क्षेत्र के पचना रोड स्थित भारत माता स्थान के पास स्थानीय नागरिकों ने एक संथाली युवक को बच्चा चोरी करने के आरोप में जमकर पिटाई किया। घटना की जानकारी मिलते ही कबैया थाना पुलिस मौके पर पहुंची। घायल अवस्था में सदर अस्पताल में भर्ती करवाया गया।

कबैया थाना प्रभारी आशुतोष कुमार ने बताया कि पचनारोड में कुछ असमाजिक लोगों ने एक भटके हुए संथाली युवक जिसका नाम पुरीमोल पिता- सुनील मडडी को बच्चा चोर के आरोप में जमकर पिटाई कर दिया। पुलिस को सुचना मिलते ही उक्त घायल युवक को कब्जे में लेकर बेहतर ईलाज के लिए लखीसराय सदर अस्पाताल में भेज दिया गया है। जहां उसका इलाज जारी है।

श्रम संसाधन मंत्री विजय कुमार सिन्हा का अभिनंदन

लखीसराय- जिले के आर लाल कॉलेज में रविवार को बिहार सरकार के श्रम संसाधन मंत्री सह स्थानीय विधायक विजय कुमार सिन्हा का अभिनंदन समारोह का आयोजन शहर के समाजसेवी देवनंदन साह की अध्यक्षता में किया गया। आर लाल कॉलेज के शासी निकाय के सचिव शोभाकान्त साह ने फुलमाला पहनाकर मंत्री का भव्य स्वागत किया एवं चांदी के बने कमल फूल भेंट कर उनका अभिनंदन किया गया।

इस मौके पर बिहार सरकार के श्रम संसाधन मंत्री सह स्थानीय विधायक विजय कुमार सिन्हा ने कहा कि राजेश्वर लाल महाविद्यालय के सभी शिक्षक एवं शिक्षकेतर कर्मचारी के बेहतर प्रदर्शन के कारण काॅलेज का सर्वांगीण विकास हो रहा है। काॅलेज की मैदान का घेराबन्दी शीघ्र कराने के लिए प्रयास किया जायेगा।

छात्र एवं छात्राओं के पठन-पाठन से लेकर अन्य सुविधाओं पर विशेष ध्यान दिया जाय। राज्य सरकार की ओर हर तरह की सुविधा देने के लिए हम सदैव तत्पर रहेंगें। इस मौके पर काॅलेज के प्रचार्य रत्नेश्वर जायसबाल, प्रो0 शिवशंकर प्रसाद, आनंदी प्रसाद साह, वाल्मिकी प्रसाद, प्रो0 देवानंद साह, के0 एस एस0 काॅलेज के पूर्व प्राचार्य प्रो0 वृजेन्द्र प्रसाद सिंह ने उन्हे माला पहनाकर भव्य स्वागत किया।

उत्साह पुर्वक की जा रही काली पूजा की तैयारी

लखीसराय- काली पूजा व दीवाली की तैयारी प्रखंड क्षेत्र में जोर-शोर की जा रही है। स्थानीय बाजार सूर्यगढा़, माणिकपुर, किरनपुर, मेदनी चौकी, कजरा, पीरी बाजार इत्यादि की जगहों पर मां काली प्रतिमा स्थापित की तैयारी पूजा समितियों द्वारा किया जा रहा है।

बताते चलें कि किरणपुर व माणिकपुर में माता काली स्थापना के दौरान सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन भी किया जाता है। इस क्षेत्र के स्थानीय लोगों के लिए मेला व सांस्कृतिक कार्यक्रम आकर्षण का केंद्र होता है। लोगों में इसकी तैयारी की आस लंबे दिनों से होती है।

इस पूजा के लिए एक ओर जहां समिति की टोली गांव एवं बाजार में चंदा उगाही करने में जुट गए हैं वहीं मां काली की प्रतिमा के लिए आवश्यक संसाधन मुहैया कराने में कार्यरत देखे जा रहे हैं। कलाकार मूर्तियां निर्माण में लगे हैं। प्रतिमाओं को आकर्षक बनाने व सजाने में तन मन से अपने काम को अंतिम रूप दे रहे हैं।

पर्व को लेकर बाजारों में बढ़ी चहल पहल

लखीसराय- जिले के विभिन्न शहर बाजारों में दीवाली व छठ को लेकर चहल- पहल बढ़ रही है। बाजार में दुकानदार दीपावली पर दुकानों की साफ सफाई व रंग रोगन कराते देखे जा रहे हैं। गृहिणियां बाजार- हाट से त्योहार में लगने वाले सामान धीरे-धीरे इकट्ठा करने में लगी हैं। त्योहार पर नये नये सामानों का आगमन होने लगा है।

दीवाली में लगने वाले सामान स्टालों पर सजने लगे हैं। ग्राहकों के अनुसार उत्सव पर बिकने वाले सामानों के दाम में तेजी आ गई है। जिससे लोगों का बजट पर असर पड़ रहा है। फिर भी लोग महंगे बजट का प्रवाह किये बिना दीवाली व छठ के सामान की खरीदारी कर रहे हैं।

बाबू की प्रासंगिकता आज और बढ़ गई है-महाचंद्र प्रसाद सिंह

लखीसराय- जिले के ‘हम’ पार्टी के नेता डॉ0 महाचंद्र प्रसाद सिंह ने कही। डॉ0 सिंह रविवार को मुंगेर होते हुए भागलपुर जाने के दौरान सूर्यगढ़ा के माँ ट्रेडर्स परिसर में प्रेस को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि 21 अक्टूबर 2017 को पटना के श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी आजादी के पूर्व के प्रधानमंत्री और आजादी के बाद के बिहार के प्रथम मुख्यमंत्री श्रीकृष्ण सिंह के 130 वीं जयंती समरोह का आयोजन किया गया है।

मुंगेर से बाबू का भावनात्मक लगाव था। इतिहास गवाह है कि 1906 ई0 में बाबू ने मुंगेर मुख्यालय के कष्टहरणी घाट में गंगा में खड़ा होकर बाबू ने एक हाथ में गीता और दूसरे हाथ में कृपाण लेकर कसम खाई थी कि जबतक भारत माँ को आजाद नहीं करा लेंगे तब तक चैन से नहीं रहेंगे। वे छात्र जीवन से ही आजादी की लड़ाई में संघर्ष कर रहे थे। इस लिए बाबू की 130 वीं जयंती के अवसर पर अधिक से अधिक लोग पटना चलें। मौके पर राजेश सिंह, राजीव सिंह, प्रमोद सिंह, सन्तोष कुमार, अरुण सिंह आदि लोग मौजूद थे।
फोटो 7 –’हम’ पार्टी के नेता डॉ0 महाचंद्र प्रसाद सिंह बैठक करते हुए

बामसेफ भारत मुक्ति मोर्चा का एक दिवसीय प्रखंड स्तरीय बैठक

लखीसराय- जिले के सूर्यगढ़ा प्रखंड के कमला पेट्रोल पंप के बगल में बामसेफ भारत मुक्ति मोर्चा एवं सभी ऑफशुट संगठन के 34वें राष्ट्रीय अधिवेशन की तैयारी एवं भीमा कोरेगांव के क्रांति स्मृति के 200 वर्ष पूरे होने के अवसर पर एक दिवसीय प्रखंड स्तरीय कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसकी अध्यक्षता प्रदेश अध्यक्ष बामसेफ के आर0 एल0 ऋषियासन ने किया।

साथ ही मुख्य अतिथि के रुप में जिला नाजिर लखीसराय संजय कुमार तथा आरएमएस के उर्मिला देवी मौजूद रहे ऋषियासान ने कहा कि ओबीसी की जाति आधारित जनगणना नहीं करना शासक जातियों का एक ब्राह्मणी पड़यंत्र है जिससे पिछड़ी जाति एवं अनुसूचित जाति दलित महादलित को जाति के आधार पर बड़ी जाति के लोग शोषण करते हैं तथा ब्राह्मणों के द्वारा चलाया गया आजादी का आंदोलन सभी के आजादी का आंदोलन नहीं था। बल्कि मूलनिवासी बहुजन समाज को गुलाम बनाने का पड़यंत्र था।

उन्होंने साफ लफ्जों में कहां के मूल निवासी बहुजन समाज का स्वतंत्र मिडिया ना होना उनकी गुलामी को दीर्घजीवी बनाने का मूल कारण है। इसके लिए हमें आगे आना होगा और मिलकर संगठन की बागडोर आगे बढ़ाने होगी। मौके पर भारत मुक्ति मोर्चा के जिलाध्यक्ष बटोही यादव हलसी प्रखंड अध्यक्ष राजकुमार जाति कोषाध्यक्ष स्वर्णकार समाज आशीष कुमार शिक्षक सुधीर महतो, भुवनेश्वर मांझी अंजनी कुमार सरवन वर्मा, अनिल दास गोपाल पासवान इत्यादि सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद थे।

बिजली की चपेट में आने से प्रमोद गुप्ता की मौत

लखीसराय- जिले के चानन प्रखंड के मननपुर बाजार लक्ष्मी पूजा के मेले में लगे झूले की तार में शॉर्ट सर्किट हो जाने से मननपुर बाजार निवासी 35 वर्षीय प्रमोद गुप्ता बिजली की करंट की चपेट में आ गये जिसके कारण मौके पर ही प्रमोद गुप्ता की मौत हो गयी।

मालूम हो प्रमोद गुप्ता मननपुर बाजार में काफी लोकप्रिय थे एवं सभी लोगों से उनका मधुर रिश्ता था। जिसके कारण जैसे ही उनकी मौत की खबर मिली। लोगों में और पूरे आसपास के इलाके में कोहराम मच गया।

इस घटना से लक्ष्मी पूजा मेले की आस्थिक क्षति पहुंची है। तथा प्रमोद के गुजर जाने से उसकी पत्नी और माँ तथा बच्चे का रो-रो कर बुरा हाल था। प्रमोद अपने पीछे तीन बेटी और दो बेटा को छोड़ इस दुनिया से विदा हो गये। अब घर की सारी जिम्मेवारी बूढ़े बाप पर आ गयी है।

लक्ष्मी जी की मूर्ति को स्थापित किया गया

लखीसराय- जिले के चानन प्रखंड के मननपुर बाजार स्थित दुर्गा मंदिर में ही लक्ष्मी जी की मूर्ति को स्थापित किया गया। जिसका उद्धघाटन सूर्यगढ़ा विधायक प्रह्लाद यादव ने किया। इस मौके पर विधायक ने कहा की इन क्षेत्रों सबसे बड़ी समस्या पानी और सड़क की है।

यहां के किसानों को जल्द ही उनके खेतों तक पानी पहुंचने लगेगा जिससे किसान खुशहाल होंगे। वहीं सड़क की बात तो धनवह से गोपालपुर, मननपुर से नगरदार तक की सड़क को भी जल्द बनाया जाएगा। उन्होंने कहा की जिस उम्मीदों से जनता ने मुझे चुनकर भेजा है। उस पर मैं खरा उतरने का प्रयास करूंगा। इस अवसर पर राजू गुप्ता, सकलदेव बिन्द,बालेश्वर यादव, सुनील कुमार मोदी ,मुखिया उमेश महतों, नगीना यादव, शिवनंदन बिन्द सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

बिहार राज्य सेविका सहायिका कर्मचारी संघ का बैठक संपन्न

लखीसराय- रविवार को नया बाजार धर्मशाला में बिहार राज्य आंगनबाड़ी सेविका सहायिका एवं कर्मचारी संघ जिला शाखा लखीसराय की ओर से एक बैठक आयोजित की गई। जिसकी अध्यक्षता रंजना भारती ने की। सभा को संबोधित करते हुए संघ नेता रामचन्द्र प्रजापति ने कहा कि सरकार आंगनबाड़ी सेविका सहायिका से सरकारी कर्मियों जैसा कार्य तो लेती है। लेकिन मानदेय महज तीन हजार रूपये ही देती है।

वहीं महासंघ के सेवांजलि के जिलाध्यक्ष सुनील कुमार चौधरी ने कहा कि महासंघ आंगनबाड़ी कर्मियों को वाजिब हक दिलाने के लिए संघर्षरत है। जबकि रंजना भारती ने कहा कि केन्द्र और राज्य सरकार महिला उत्थान की बात तो करते हैं लेकिन सही मायने में महिला का शोषण हो रहा है। इन कर्मियों को पिछले अठारह माह से मानदेय नहीं मिला है इसलिए संघ अब संघर्ष करने के लिए बाध्य हो जाएगा। इस सभा को नूतन कुमारी, सुनीता कुमारी, कौश्ल्या कुमारी, ललीता कुमारी, डोली कुमारी आदि ने भी संबोधित किया।

पति की लंबी उम्र की कामना को लेकर करवा चौथ व्रत रखकर चाँद को दिदार

लखीसराय- जिले के विभिन्न हिस्सों में पतिव्रता महिलाओं के द्वारा अपने पति की लंबी उम्र की कामना को लेकर करवा चौथ व्रत रखकर चाँद को दिदार किया। आज करवाचौथ है और हर पतिव्रता पत्नी अपने-अपने पतियों के दीघार्यु होने के लिए निर्जला व्रत रखा था। हमारे भारत मे यहाँ धर्मपत्नी को अर्धांगिनी यानी आधा अंग माना जाता है और नारी अपने पति को परमेश्वर मानती है। नारीशक्ति के बिना कोई पुरूष कुछ नहीं कर सकता है, क्योंकि उसके जीवन में नारी ही शक्ति प्रदाता होती।

हर पतिव्रता नारी की एकमात्र इच्छा होती है कि उसका साथ हमेशा बना रहे और अंत में अपने पति के कंधे पर चढ़कर वह परलोक जाय। करवाचौथ का व्रत एक कठिन व्रत होता है जिसे जल्दी कोई पुरूष नहीं कर सकता है। आज सभी नारियों की तमन्ना होती है कि उसका पति पूजा के समय उनके सामने रहे ताकि वह चलनी से उसका दीदार करके उनके चरण स्पर्श कर आशीर्वाद ले सके तथा पति उन्हें अपने हाथों पानी पीलाकर व्रत समाप्त कराये। वह नारियां बहुत सौभाग्यशाली होती हैं, जिनका पति करवा चौथ के दिन उनके पास रहता है। सिर्फ हमारे देश में ही ऐसा होता है क्योंकि यहाँ पति-पत्नी के बीच जन्म-जन्म का रिश्ता माना जाता है।

एक समय वह भी था नारियां पति की मृत्यु होने पर उनके साथ ही चिता पर लेटकर पति के साथ ही स्वर्गलोक चली जाती थी। सरकार ने भले ही सती प्रथा पर रोक लगाकर इसे अपराध घोषित कर दिया गया है फिर आज भी पति के साथ सती होने की छुटपुट घटनाएं हो रही हैं। हमारे यहाँ नारी को त्याग तपस्या की प्रतिमूर्ति माना जाता है और बिना पति को भोजन कराये खुद भोजन नहीं करती हैं। पति सेवा को अपना धर्म मानती हैं और सुख दुख में बराबर साथ निभाती हैं। नारी की पूजा साधारण मनुष्य ही नहीं बल्कि देवता भी उनकी पूजा करते हैं और जब दुख मुसीबत आती है तो वही नारी शक्ति उनकी रक्षा करती है। देवों के देव महादेव हो चाहे भगवान विष्णु हो सभी नारी शक्ति के सामने नतमस्तक रहते हैं और जरा सी गलती करने पर सजा पा जाते हैं। ब्रह्मा जी इसके प्रत्यक्ष प्रमाण हैं जिन्हें नारी शक्ति ने श्राप दे दिया था। नारी शक्ति ही आदिशक्ति महाशक्ति परमशक्ति है और हर नारी में उसकी शक्ति समाई हुई है। इसलिए कहते कि जब तक नारी एक साधारण नारी रहती है तब तक वह विवश होती है। लेकिन जब उसका रूप बदलता है तो वह दुर्गा रणचंडी बन जाती है। करवा चौथ व्रत को लेकर कई तरह की कहानियां प्रचलित हैं।

लोक मान्यताओं के अनुसार करवा चौथ का व्रत सबसे पहले माता पार्वती ने भगवान शिव का अखंड सौभाग्य पाने के लिए किया था।महाभारत काल में द्रौपदी इस व्रत को अपने पतियों की सलामती के लिए किया था। जब देवासुर संग्राम चल रहा था तब ब्रह्मा के कहने पर देवताओं की पत्नियों ने पति को विजय दिलाने के लिए यह व्रत किया था। कहते हैं कि जब सीता लंका में थी और उनके पति उनके पास नहीं थे। तब उन्होंने पति मिलन और पति की सलामती के यह व्रत करके समुद्र पार बैठे भगवान राम को चलनी से देखकर उनकी सलामती के लिये ईश्वर से कामना की थी। करवा चौथ व्रत रखने की परम्परा आदिकाल से चल रही है।

कुछ लोगों का मानना है कि चन्द्रमा के साथ काला दिखने वाला विष है उसका सगे भाई हैं क्योंकि दोनों की उत्पत्ति समुद्र मंथन से हुई है। यहीं कारण की चन्द्रमा विष रूपी अपने सगे भाई को हमेशा हृदय में बिठाये रहता है। दोषमुक्त होने के लिये ही पत्नियां हमेशा चलनी से ही अपने पति का दर्शन करती हैं और पति उन्हें जल पिलाकर उनके व्रत को लक्ष्य प्रदान करता है। कलियुग में पति पत्नी के रिश्ते कंलकित होने लगे हैं और पत्नी को जन्म-जन्म का साथी नहीं बल्कि बेड पार्टनर माना जाने लगा है। कुछ औरतें भी अपने पति को परमेश्वर न मानकर उन्हें रूम पार्टनर मानने लगी है और पति भी उन्हें शारीरिक हवस मिटाने का साधन मानने लगे हैं। करवा चौथ का व्रत पति पत्नी के मध्य श्रद्धा आस्था समर्पण का प्रतीक माना जाता है।

लोक सभा चुनाव 2019 से पहले शिक्षक संघ का विशाल आन्दोलन करने का निर्णय

लखीसराय- बिहार पंचायत नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ 2565/11 की जिलाध्यक्ष बबलू कुमार यादव ने कहा कि बिहार प्रदेश अध्यक्ष के कथनानुसार सरकार सेवा शर्त देने के पक्ष में नहीं है। राज्य सरकार शिक्षकों के भविष्य से खिलवाड़ कर रही है। बिहार के सभी मंत्री नीतीश कुमार के हाथों की कठपुतली हैं। सरकार दीपावली एवं छठ पर्व में नियोजित शिक्षकों के लिए वेतन आवंटन देने में असमर्थ है।

पूर्व में आवंटित वेतन मद में भी बिहार के कई जिलों में पूरा आवंटन नहीं रहने के कारण अनेक शिक्षकों को वेतन नहीं मिल पाया है। बकाया अंतर वेतन के लिए कोई अलग से आवंटन नहीं मिलता है तथा सरकार कि लचर व्यवस्था पर चिंता व्यक्त किया। शिक्षकों के मनोबल को बढ़ाते हुए कहा कि दक्षता में फ़ैल हुए शिक्षकों को सुप्रीम कोर्ट ने राहत देते हुए उनकी सेवा को बहाल रखा है। इसलिए लोक सभा चुनाव 2019 से पहले एक विशाल आन्दोलन करने का निर्णय लिया गया है। जरूरत है कि हम एक होकर नरेन्द्र मोदी सरकार एवं नीतीश कुमार की सरकार को करारा जबाब दें।

आंख जांच के लिए मुफ्त शिविर

लखीसराय- जिले के प्रबोध समिति के द्वारा ओम साई आई हॉस्पिटल के सहयोग से चानन प्रखंड के महेशलेटा पंचायत गोडीह गांव में आंख जांच के लिए मुफ्त शिविर लगाया गया। जिसमें अनन्त शंकर के द्वारा किया गया। सभी लोगों ने प्रबोध समिति और ओम साई आई हॉस्पिटल को इस कार्य की सराहना की एवं आशा व्यक्त किया की इसी तरह से आम लोगों की सेवा की जाए। ताकि हम जनता एवं गरीबों को एक बेहतर सेवा मिल सके। इस मौके पर प्रबोध समिति के सचिव चंदन कश्यप, भूतपूर्व मुखिया कारू पासवान, चोला महंत, धर्मवीर कुमार, पैक्स अध्यक्ष जितेंद्र कुमार एवं सैकड़ों ग्रामीण उपस्थित थे ।

कीटनाशक दवा खाकर आत्महत्या

लखीसराय- जिले के चानन प्रखंड के कुंदर पंचायत अंतर्गत गोपालपुर गावं के पासवान टोला में बीती रात कुलदीप पासवान की 35 वर्षीय पत्नी ने कीटनाशक दवा खाकर आत्महत्या कर ली। सूत्रों पर यकीन करें तो कुलदीप की बेटी की शादी हो चुकी है। लेकिन वो अपने पति के पास नहीं जाना चाहती थी। इसी को लेकर माँ उसे अपने पति के पास जाने को कहती लेकिन बेटी जाने को तैयार नहीं हुई।

इसी विवाद को लेकर माँ ने कीटनाशक दवा खाकर आत्महत्या कर ली। आनन-फानन में परिजनों द्वारा शव को नदी में जला दिया गया। मालूम हो की लड़की का प्रेम प्रसंग बसुआचक गांव के अमित कुमार से था। जो पिछले दिनों मननपुर बाजार में इसी में पकड़ गया और स्थानीय लोगों ने उसे जमकर धुनाई कर दी। इस संबंध में चानन थाना अध्य्क्ष सुनील कुमार झा ने बताया की हमे ऐसी कोई जानकारी नहीं है।

एटक के नेता के निधन पर शोक सभा आयोजित

लखीसराय- एटक के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष,झारखंड एटक के अध्यक्ष एवं अखिल भारतीय इस्पात कामगर यूनियन के अघ्यक्ष गया सिंह के निधन पर नया बाजार धर्मशाला में बिहार राज्य अराज्सपत्रित कर्मचारी महासंध की ओर एक शोक सभा आयोजित किया गया। शोक सभा को संबोधित करते हुए बिहार राज्य अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ के उपमहामंत्री विकास कुमार ने कहा कि स्व0 सिंह श्रमिकों के हितों के रक्षा के लिए हमेशा संघर्षरत रहे।

उनके निधन से श्रमिक आन्दोलन को काफी नुकसान पहूंचा है। स्व0 सिंह श्रमिक नेता के साथ साथ एक कुशल सांसद भी थे। इस मौके पर दयानंद भारती रंजना भारती पप्पू दास नूतन कुमारी सुनीता कुमारी विनीता कुमारी सुलेखा कुमारी नीलू कुमारी आदि मौजूद थे।.

राणीसती मंदिर के संरक्षक मंडल की बैठक आयोजित

लखीसराय- जिले के चितरंजन रोड स्थित राणी सती मंदिर में दादी मां के जन्मोत्सव मनाने को लेकर रामगोपाल के अध्यक्षता में एक बैठक आयोजित किया गया। इस बैठक में 28 व 29 अक्टूबर को दादी मां के होने वाले जन्मोत्सव पर विस्तार पूर्वक चर्चा की गई।

जिसमें राणी सती मां के भव्य शोभा यात्रा जन्मोत्सव पर होने वाले खर्च मंदिर भवन निर्माण एवं लिफ्ट नए आजीवन सदस्य बनाने आजीवन सदस्य को आरक्षण में विशेष सुविधा देने आदि पर चर्चा की गई।

अनदेखी

लखीसराय- जिले के शिक्षा के अधिकार कानून के तहत निःशुल्क एवं अनिवार्य वाल शिक्षा का चानन प्रखंड के सभी विद्यालय अनदेखी कर रही है। उक्त बातें बिहार अभिभावक महासंघ के अध्य्क्ष दिनेश कुमार यादव ने आरोप लगाते हुए कहा जिला शिक्षा पदाधिकारी से करवाई करने की मांग की है। उन्होंने बताया की निजी विद्यालयों पर अभी बंचित वर्ग के बच्चों का नामंकन उक्त कानून के तहत सुनिश्चित नहीं किए जाने पर जिला शिक्षा पदाधिकारी से शीघ्र ही करवाई करने की मांग की गयी है। मालूम हो की शिक्षा अधिकार के नियम के प्रावधानों के अनुसार सभी कोटि के निजी विद्यालय का प्रवेश कक्षा का कुल सामर्थ्य संख्या का 20 % कमजोर एवं वंचित वर्ग के कोटे के अंतर्गत आने वाले छात्र का नामंकन लेने की बाध्यता है।

वहीं बताते चलें की बिहार राज्य में शिक्षा का अधिकार अधिनियम वर्ष 2009 तथा 1 अप्रैल 2010 से प्रभावी है जिसके प्रावधानों के तहत सभी कोटि के निजी विद्यालयों को विद्यालय संचालन के पूर्व जिला कार्यक्रम पदाधिकारी एवं जिला शिक्षा पदाधिकारी से अनुमति लेने की बाध्यता है और साथ ही विद्यालय संचालन की पूरी जानकारी अभिभावक को उपलब्ध करानी है किन्तु प्रखंड के सभी प्रसवकृत विद्यालय ऐसा करने में अपनी दिलचस्पी नहीं दिखाते है जिससे की अभिभावक को गुमराह कर राज्य सरकार को अँधेरे में रखा जा रहा है।

ग्राम समृद्धि एवं स्वच्छ्ता पखवाड़ा के 8वें दिन जॉब कार्ड तथा 100 दिन के काम के बारे में विस्तार पूर्वक दी गई जानकारी

लखीसराय- जिले के ग्राम समृद्धि एवं स्वच्छ्ता पखवाड़ा के 8वें दिन प्रखंड के सभी पंचायतों में रविवार को पंचायत के मुखिया की अध्य्क्षता में पंचायत रोजगार सेवक के द्वारा सभी ग्रामीण मजदूरों को मनरेगा में कार्य करने जॉब कार्ड तथा 100 दिन के काम के बारे में विस्तार पूर्वक बताया गया। जिनमें भलुई, कुंदर, ईटोंन, गोहड़ी, महेशलेटा, मलिया, लाखोचक एवं संग्रामपुर में मुखिया उमेश महतों की अध्य्क्षता में पी .आर .एस. अरुण कुमार रजक ने ग्रामीण मजदूरों को मनरेगा संबंधी जानकारी दी।

पंचायत के मुखिया उमेश महतों ने उपस्थित मजदूरों से कहा की जो मजदूर काम करना चाहते है वो पी.ओ कार्यालय में आवेदन दे सकते है। मलिया पंचायत में मुखिया डब्लू पासवान की अध्य्क्षता में पी.आर.एस मिथलेश कुमार द्वारा मानपुर गावं में मजदूरों को मनरेगा की जानकारी दी गयी।

वहीं लाखोचक पंचायत में मुखिया रीता देवी की अध्य्क्षता में पी.आर.एस मनोज कुमार द्वारा सहकारिता भवन के कार्यालय के प्रकोष्ठ सिंघचक में सैकड़ों जॉब कार्डधारी मजदूरों को बिस्तारपूर्वक मनरेगा से जुडी जानकारियां दी गई। तथा इसके कार्यों एवं उद्देश्यों पर प्रकाश डाला गया। जिनमे भाजपा प्रखंड अध्य्क्ष शशिकांत सिंह ,पैक्स अध्य्क्ष अशोक यादव, कान्ति सिंह, सरपंच प्रतिनिधि ललन मोदी, जनार्दन यादव, कृष्णंदन यादव, राजकुमार यादव, रविराज साव सहित सैकड़ों मजदूर उपस्थित थे।