लालू ने एक बार फिर दही का टीका लगा कर नीतीश का किया स्वागत

305
0
SHARE

पटना: राजद सुप्रीमो लालू यादव के सरकारी आवास 10 सर्कुलर रोड पर आज मकर संक्रांति के अवसर पर बहु प्रतिक्षित भोज का आयोजन किया गया। इस भोज में नेता और कार्यकर्ता बड़े पैमान पर शामिल हुए।

वैसे तो भोज दिन के साढ़े ग्यारह बजे से शुरू हो गए थे। उसके बाद बड़ी संख्या में लोगों का पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया। भोज के लिये लालू-राबड़ी आवास में खास तौर पर व्यवस्था की गई थी। एक बार में करीब तीन से चार सौ लोग खाने के लिए बैठे। भोज शुरू होते ही लालू खुद अपने बड़े बेटे तेजप्रताप यादव के साथ भोज की व्यवस्था का जायजा लेते दिखे।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार दोपहर के बाद लालू के इस भोज में शामिल होने पहुंचे। लालू यादव ने पिछले साल की ही तरह इस बार भी दही का टीका लगाकर नीतीश का स्वागत किया। लालू ने अपने अंदाज में कहा कि गठबंधन में कही दरार नहीं है। मैंने सीएम नीतीश को दही का तिलक लगा कर सब शुभ कर दिया है।

भोज में पहुंचे नीतीश ने कहा कि लालू आवास पर दही-चूड़ा के भोज में शामिल होने का अवसर मिला यह मैं अपना सौभाग्य समझता हूं। लालू जी ने दही का तिलक लगा कर दूसरी बार आशीर्वाद दिया है। सीएम ने कहा कि हम सब मिल कर बिहार को आगे बढ़ाने का प्रयत्न कर रहे हैं और लोगों का वादा पूरा कर रहे हैं। हम उनलोगों में से नहीं जो चुनाव में वादा कर भूल जायें।

लालू और राबड़ी देवी ने नीतीश को चूड़ा, दही, सब्जी और तिलकुट परोसा। नीतीश से पहले लालू के आवास पर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अशोक चौधरी पहुंचे थे। लालू ने उनसे साथ खाना खाया। विधानसभा अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी और विधान परिषद के सभापति अवधेश नारायण सिंह को लालू प्रसाद और राबड़ी देवी ने खुद चूड़ा और दही परोसा।

जितने लोग लालू आवास के अंदर रहे उससे अधिक लोग बाहर अपनी बारी का इंतजार कर रहे थे। भोज में आए लोगों के खाने और उनके स्वागत का कमान लालू यादव ने संभाला था। इसके साथ ही वे भीड़ को भी नियंत्रित करने में जुटे हैं। लालू के आवास पर श्याम रजक, संजय सिंह समेत जदयू के कई नेता भी पहुंचे। गया दौरे से लौटने के बाद सीएम नीतीश भी लालू के आवास पर हो रहे भोज में भाग लेने पहुंचें।

मकर संक्रांति के अवसर पर लालू ने दो दिनों का भोज दिया है। पहले दिन सभी कार्यकर्ताओं और आम जनता के खाने का इंतजाम किया गया है। भोज के लिए लालू ने भाजपा के नेताओं को भी निमंत्रित किया है हालांकि भाजपा के नेता लालू के आवास पर नहीं पहुंचे।