लाल बहाुदर शास्त्री क मौत के रहस्य से पर्दा हटाएं पीएम : रणवीर नंदन

138
0
SHARE

पटना – उद्योग मंत्री श्याम रजक ने कहा कि लाल बहादुर शास्त्री सिर्फ देश के प्रधानमंत्री नहीं थे बल्कि वे देशवासियों के लिए प्रेरणाश्रोत थे। उनके विचार हर क्षेत्र में प्रासांगिक है। उनके विचारों पर मनन कर बिहार विकसित होगा और आगे बढ़ेगा। वे बुधवार को स्थानीय हिन्दी साहित्य सम्मेलन में वंदे मातरम फाउंण्डेशन के तत्वावधान में आयोजित भारत रत्न लाल बहाुदर शास्त्री सम्मान समारोह 2019 को बतौर उद्घाटन कर्ता संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि शास्त्री जी ने अपने कार्यक्रमों के माध्यम से देश को दिशा दी आज उनके नाम पर प्रतिभा का सम्मान गर्व की बात है।

इस मौके पर मुख्य अतिथि विधान पार्षद प्रो. रणवीर नंदन ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से आग्रह किया कि देश चाहता है कि देश के महान व्यक्ति पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के मौत के कारणों का जांच कर इसका पठाक्षप करें और जो भी इसमें दोषी है उनको सजा मिले। उन्होंने कहा कि शास्त्री जी का जीवन किसानों के लिए समर्पित था। उन्होंने कहा कि जहां दृढ़ इच्छा शक्ति होती है तरक्की वहां खुद व खुद होती है। इससे मिलती जुलती थी शस्त्री जी के कार्यक्रम। उन्होंने कहा कि यह पुरस्कार सम्मान समारोह नारी सशस्क्तिकरण के लिए मिशाल है जहां 30 सम्मानित लोगों में 13 महिलाएं हैं।। प्रो. नंदन ने कहा कि यह सम्मान समारोह मुख्यमंत्री नीतीश कुमार क महिला सशक्तिकरण के सिद्धांत को मजबूत कर रहा है।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के परिवहन मंत्री के रूप में शास्त्रीजी ने महिला कडक्टर की बहाली कर महिलाओं को सशक्त किया था। इस मौके पर हिन्दी साहित्य सम्मेलन के अध्यक्ष अनिल सुलभ ने भी शास्त्री जी के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कार्यक्रम की सराहना की। कार्यक्रम की अध्यक्षता फाउण्डेशन के अध्यक्ष राजन सिन्हा ने किया। इस मौके पर दूरदशर््न केन्द्र पटना के निदेशक राजकुमार नाहर,समाजसेवी ममता शर्मा,प्रफुल्ल चंद्रा,राजेश कुमार सिन्हा, रवीन्द्र कुमार, अनुराग समरूप, विशाल वर्मा, डॉ. धीरज सिन्हा, विजय श्रीवास्तव, प्रकाश रंजन, लता परासर,सुनील सिन्हा, नेहा पोद्दार, अजु साह, श्वेता श्रीवास्तव समेत कई लोग मौजूद रहे।