लोजपा ने नीतीश कुमार के फैसले का किया स्वागत

68
0
SHARE

पटना – लोक जनशक्ति पार्टी प्रदेश महासचिव सह प्रवक्ता श्रवण कुमार अग्रवाल, प्रवक्ता केशव सिंह ने राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार के द्वारा बिहार में निषाद, नोनिया, बिन्द, बेलदार, चाई, खुलवट, सरहिया, गोढ़ी, वनपर, केवट इत्यादि जातियों को अनुसूचित जनजाति में शामिल करने के अनुशंसा इथनोग्राफिक अध्ययन कराकर भारत सरकार को भेजने की निर्णय का पुरजोर स्वागत किया है।

पार्टी प्रवक्ता श्रवण अग्रवाल एवं केशव सिंह ने कहा कि उपरोक्त सभी जातियां देश की मूल जाति रही है तथा सदियों से ये सभी जाति आर्थिक, समाजिक एवं शैक्षणिक रूप से काफी कमजोर रही है ये अपने जीवन-उपार्जन हेतू भ्रमणशील रहकर जल एवं जंगल पर आधारित जीवन-यापन करते रहें हैं जिसकों लेकर राज्य सरकार ने नीतीश कुमार के नेतृत्व में इनके सामाजिक बदलाव को महसूस करते हुए इन जातियों के उत्थान के लिए जो सराहनीय फैसला लिया है बिहार लोक जनशक्ति पार्टी भी इस फैसले का स्वागत करती है। प्रवक्ता द्वय ने कहा कि पूर्व ही अनुसूचित जाति में थारू, मुण्डा, उराॅव, गौड़ सहित बाईस उपजातियाँ शामिल है जिनका राज्य में कुल आबादी का हिस्सा 0.9 प्रतिषत है। उपरोक्त अनुशंसा को लागू कर देने के बाद अनुसूचित जनजाति की आबादी बढ़कर लगभग 16 प्रतिशत हो जायेगी।