विधायक ने दी इंजीनियर को धमकी !

723
0
SHARE

FIR COPY (2)आरा: आरजेडी के विधायक सरोज यादव एक बार फिर से चर्चा में हैं। मामला बिजली विभाग के इंजीनियर को धमकाने का है। भोजपुर के बड़हरा के राजद विधायक सरोज यादव ने गुरुवार को बिजली कम्पनी के सहायक अभियंता राघवेंद्र प्रताप सिंह को धमकी दे डाली। विधायक विद्युत अवर प्रमंडल आरा (ग्रामीण) के सहायक अभियंता पर बिजली चोरी के आरोपितों की मदद करने का दबाव दे रहे थे। इसे लेकर अभियंता द्वारा विधायक के खिलाफ आरा शहर के नवादा थाने में आवेदन देकर प्राथमिकी दर्ज करने की मांग करते हुए सुरक्षा की गुहार लगाई है।

हालांकि विधायक ने आरोप को बेबुनियाद बताया है। दो फरवरी को कार्यपालक अभियंता के नेतृत्व में विद्युत कम्पनी की टीम गजराजगंज ओपी के कारीसाथ गांव में छापेमारी करने गयी थी। उस समय नौ लोगों को बिजली चोरी के आरोप में पकड़ा गया था। सभी के खिलाफ फाइन लगाते हुए बीते तीन फरवरी को एफआईआर दर्ज करा दी गयी। इसी मामले में विधायक सरोज यादव पैरवी कर रहे थे। विधायक सरोज यादव ने कहा कि राजनीतिक साजिश के तहत उनको बदनाम किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि सहायक अभियंता से सिर्फ गरीबों को तंग नहीं करने की बात कही गयी थी। इसी को लेकर सहायक अभियंता द्वारा बेबुनियाद आरोप लगाया जा रहा है।

वहीं जब इस मामले के बात करने के लिए जब हम आरा के बिजली विभाग पहुंचे तो विधायक पर आरोप लगाने वाले अभियंता कार्यालय से ही गायब दिखे। उनके ऑफिस के बाहर ताला लगाया गया था और जब उनसे फोन पर बात की गई तो उन्होंने मीडिया का नाम सुनते ही मिलने से ही मना कर दिया।

विद्युत सहायक अभियंता राघवेंद्र प्रताप सिंह ने थाने में दिये आवेदन में कहा है कि बड़हरा के राजद विधायक बिजली चोरी के आरोपितों का केस से नाम हटाने का दबाव दे रहे थे। नाम हटाने में असमर्थता जताने पर विधायक द्वारा फाइन कम करने की बात कही गई। इससे इनकार करने पर विधायक भड़क गये और धमकी देने लगे। अभियंता के अनुसार विधायक ने गुरुवार को उनके सरकारी मोबाइल पर दो कॉल किया।

सरकारी अफसर को धमकी देने का यह विधायक पर पहला मामला नहीं है। पिछले साल उनपर चरपोखरी के थानेदार कुंवर गुप्ता को धमकी देने का आरोप लगा था। इसके बाद विधायक चर्चा में आ गये थे। उस समय भी विधायक हत्या के किसी आरोपित के पक्ष में पैरवी कर रहे थे। थानेदार द्वारा पैरवी सुनने से इनकार करने पर विधायक द्वारा पटक कर मारने की धमकी दी गयी थी।