शराब कारोबार में शामिल पुलिसकर्मियों पर होगी कार्रवाई – गुप्तेश्वर पांडेय

106
0
SHARE

बेगूसराय – सूबे बिहार में नशाबन्दी जनजागरण अभियान के तहत आमजनों को जागरूक व प्रेरित करने के लिए BMP के महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय राज्य के सभी जिलों में सभा व नुक्कड़ के माध्यम से सभी प्रकार के नशा व नशा से होने वाले दुष्प्रभाव को बता रहे हैं, इसी क्रम में उनका बेगूसराय आगमन हुआ। BMP सभागार में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पांडेय ने कहा कि देश के युवा नौजवान को नशा के आदि बनाने में विदेशी साजिश चल रही है ताकि भारत जैसे ताकतवर देश के युवा को कमजोर व बर्बाद किया जा सके।

उन्होंने कहा कि सरकार कानून हमसबों के लिए बनाती है, कानून का अनुपालन सभी को करना चाहिए ताकि समाज, राज्य व राष्ट्र का बेहतर निर्माण हो सके। उन्होंने कहा कि शराब, चरस, अफीम, गांजा जैसे मादक पदार्थो के सेवन से लोगों का घर बर्बाद होता है, धन की हानि होती है, नस्ले तबाह होती हैं और समाज में आत्मसम्मान का ह्रास होता है।

उन्होंने आमजनों से आग्रह किया कि नशा के सेवन का त्याग करने का संकल्प लें। इस पर सभा मे मौजूद अतिथियों ने हाथ उठा कर नशाबन्दी के समर्थन व नशा त्याग का संकल्प लिया। कार्यक्रम के बाद पत्रकारों को संबोधित करते हुए DG ने कहा कि राज्य में नशाबंदी के बाद भी कुछ लोग शराब के सेवन व कारोबार कर रहे हैं यह काफी दुखद है। पत्रकारों एक सवाल का जबाब देते हुए पांडेय ने कहा कि शराब कारोबार में शामिल पुलिसकर्मी व अधिकारियों पर कार्रवाई निरंतर जारी है उन्होंने कहा कि फिर भी यदि लोगों के पास पुलिस पदाधिकारी के शराब कारोबार में शामिल हैं तो साक्ष्य सहित उपलब्ध कराएं तो उनके विरुद्ध 100 फीसदी कार्रवाई होगी।

उन्होंने पुलिस अधिकारियों को बेस्ट पुलिसिंग का मंत्र देते हुए कहा कि अधिकारियों को संवेदनशील व विश्वसनीयता के साथ कार्य करना होगा ताकि आमलोग गोपनीय सूचना बेहिचक दे सकें। उन्होंने माना कि कुछ पुलिस अधिकारी गोपनीय सूचना गोपनीय नही रख पाते जिससे आमजनों का उन्हें सहयोग व संवाद स्थापित नहीं होता जिससे लोगों में असंतोष का भाव पनपता है। इस अवसर पर BMP के AIG अरविंद ठाकुर, BMP कमांडेंट प्राणतोष कुमार उपस्थित थे।