शास्त्री जी के मौत के कारणों का हो पर्दाफाश : प्रो रणबीर नंदन

266
0
SHARE

पटना – पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री पुण्यतिथि आयोजन समिति के तत्वावधान में शुक्रवार को स्थानीय बिहार हिन्दी साहित्य सम्मेलन कदम कुंआ में पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री 53वीं पुण्यतिथि समारोह आयोजित की गयी। इस अवसर पर उद्घाटनकर्ता बिहार विधान परिषद के सदस्य डा0 रणबीर नंदन ने कहा कि अगर केंद्र सरकार सचमुच में शास्त्री जी को सम्मान देना चाहती है तो शास्त्री जी के मौत के कारणों का पता लगाए और उनके मौत पर जो पिछले 52 साल से रहस्य छुपा है उसे सार्वजनिक करे।

उन्होंने कहा कि कि सर्वप्रथम देश के दिवंगत प्रधानमंत्री स्व0 अटल बिहारी बाजपेयी ने संसद में शास्त्री जी के मौत के कारणों की जांच की मांग की थी। इसलिए अगर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शास्त्री जी के मौत के कारणों का खुलासा करते हैं तो यह शास्त्री जी के साथ साथ अटल जी के प्रति भी श्रद्धांजलि होगी, क्योंकि शास्त्री जी के नारे जय जवान जय किसान में अटल जी ने ही जय विज्ञान जोड़ा था। उन्होंने कहा कि चाहे अकाल का समय हो या देश के लिए सोना जमा करने का काल उनका उस समय जनता से अपील देश के लिए कारगर रहा।

प्रो नंदन ने कहा कि शास्त्री जी समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति का विकास कर देश में सभी समाज के लोगो का विकास चाहते थे ठीक उसी तरह हमारे नेता मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी शास्त्री जी की तरह इमानदारी से बिहार की जनता की सेवा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज का युवा वर्ग लाल बहादुर शास्त्री की जीवनी को ठीक से पढ़ लेगा तो उसे विद्या की कभी कमी नहीं होगी और विद्या आएगी तो लक्ष्मी भी स्वयं आ जाएगी। उन्होंने आयोजकों से कहा कि वे शास्त्री जी पर बुकलेट छापकर उनके आदर्श को आम जनता तक पहुंचाने का काम करें। साथ ही उनकी अगली जयंती या पुण्यतिथि पर क्विज प्रतियोगिता कराकर आम बच्चों को प्रोत्साहित करने का प्रयास करें। इसके अलावा संकल्प लें कि हम साल में दो जोड़ी वस्त्र गरीब परिवार के लिए भी खरीद कर देंगे तब ही शास्त्री जी को हम सच्ची श्रद्धांजलि दे पाएंगे।

इस मौके पर मुख्य अतिथि जदयू कलमजीवि प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष पूर्व मंत्री रंजीत सिन्हा ने कहा कि शास्त्री जी का जीवन सादगी एवं आदर्श से भरा हुआ था जो हमें कदम -कदम पर सत्कर्म व इमानदारी की सीख देता है। समारोह की अध्यक्षता करते हुए जदयू नेता अमर कुमार सिन्हा ने कहा कि लाल बहादुर शास्त्री उस महामानव का नाम है जिन्होंने अपनी कुर्बानी देकर भी सदैव देश हित के लिए काम किए। उक्त कार्यक्रम में बतौर विशिष्ट अतिथि समाजसेवी व पटना महानगर जदयू कलमजीवि प्रकोष्ठ के अध्यक्ष डाॅ धीरज सिन्हा ने शास्त्री जी को इमानदार व कुशल नेतृत्वकर्ता बताया। कार्यक्रम का संचालन जदयू नेता राज सिन्हा एवं धन्यवाद ज्ञापन महिला नेत्री रश्मि श्रीवास्तव ने किया। इस मौके पर गीता वर्मा, प्रीति श्रीवास्तव, विशाल वर्मा, विजय श्रीवास्तव, अवधेश सिन्हा, प्रमेन्द्र कुमार, अनुराग समरूप, मनोज निषाद, राजु चन्द्रवंशी, कुसुम देवी, सोनू सिन्हा सहित कई लोगो ने शास्त्री जी को श्रद्धांजलि दी।