सफियाबाद हाल्ट निर्माण को लेकर असरदार रहा मोर्चा का रेल चक्का जाम

1005
0
SHARE

लगभग 3 घंटे के जाम में एनएच 80 पर लगी वाहनों की लंबी कतार

जमालपुर (प्रिंस दिलखुश)

सफियाबाद हॉल्ट का पुनः स्थापना, जमालपुर कारखाना को निर्माण कारखाना घोषित करने, रेलवे विश्वविद्यालय की स्थापना आदि मांगों को लेकर पूर्व से घोषित कार्यक्रम के तहत जमालपुर रेल निर्माण कारखाना संघर्ष मोर्चा के नेताओं ने सैकड़ों कार्यकर्ता सहित हजारों ग्रामीण मोर्चा के संयोजक से सपा के जिला अध्यक्ष पप्पू यादव के नेतृत्व में नौलक्खा दुर्गास्थान मंदिर के प्रांगण से विशाल जुलूस निकालकर प्रदर्शन करते हुए सफियाबाद रेलगुमटी पर पहुंच रेलवे ट्रैक पर रेल रोको रास्ता रोको आंदोलन के तहत रेलवे ट्रैक एवं एनएच 80 को पूर्णरुपेन ठप कर दिया। जिसके कारण एनएच 80 के दोनों ओर पांच-पांच किलोमीटर तक बड़ी और छोटी वाहनों की लंबी कतार लग गई।

रेल-रोको, रास्ता-रोको कार्यक्रम के तहत सफियाबाद रेल गुमटी स्तिथ आन्दोलन स्थल पर उपस्थित हजारों लोगों को संबोधित करते हुए मोर्चा के संयोजक सह सपा के जिला अध्यक्ष पप्पू यादव ने कहा कि यहां के रेल अधिकारी लगातार जन आकांक्षाओं की हत्या कर रहे हैं। रेल अधिकारियों के अखबार के बयान पर यदि गौर किया जाए, तो यह स्पष्ट हो जाएगा कि लौहनगरी जमालपुर के दुर्दिन की शुरुआत हो चुकी है। श्री यादव ने कहा कि तानाशाह और संवेदनहीन रेल प्रशासन के लिए मोर्चा का यह आंदोलन चुनौती होगा। यदि सफियाबाद हाल्ट का निर्माण अतिशीघ्र नहीं हुआ तो हम जीएम और डीआरएम को जमालपुर की धरती पर आने से रोक देंगे।

मोर्चा के सह संयोजक सह राजद के जिला महासचिव कन्हैया सिंह ने कहा रेल प्रशासन को यह बताना चाहिए कि किस परिस्थिति में सफियाबाद हॉल्ट समाप्त किया गया।अगर इसी तरह जन आकांक्षाओं की अवहेलना होती रही, तो हम मोर्चा प्रशासन का ईंट से ईंट बजा देंगे। मोर्चा के प्रवक्ता सह भाजपा नेता निशुतोष कुमार निशु ने रेलवे की जनविरोधी नीतियों पर बिफरते हुए कहा जमालपुर एक ऐतिहासिक रेल नगरी है। लेकिन एक साजिश के तहत जमालपुर प्रक्षेत्र को मुर्दा बनाने का षड़यंत्र रचा जा रहा है।

स्थानीय पूर्व मुखिया प्रकाश तांती ने कहा कि सफियाबाद हॉल्ट हमारा अधिकार है और इसे हम लेकर रहेंगे। जाम स्थल पर वार्ता के दौरान रेल के अधिकारियों को मोर्चा ने अपना तीन सूत्री ज्ञापन सौंपा। वहीं उनके तीन सूत्री ज्ञापन में अंग्रेजों द्वारा स्थापित सफियाबाद हॉल्ट को समाप्त करने के फैसला को वापस लेते हुए सफियाबाद हॉल्ट का अविलम्ब पुनर्स्थापना किया जाना। एशिया प्रसिद्ध जमालपुर रेल इंजन कारखाना में  कोच का कार्यभार देते हुए, निर्माण कारखाना घोषित किया जाना। प्रधानमंत्री के घोषणा के अनुरूप लौहनगरी जमालपुर में रेलवे विश्वविद्यालय की स्थापना किया जाना, यह मांगे शामिल हैं।

वहीं कार्यक्रम में मुख्य रुप से राजद के पूर्व जिला अध्यक्ष मोहन यादव, सपा के प्रधान महासचिव मनोज कुमार मधुकर, वरीय उपाध्यक्ष विद्या किशोर, मुंगेर विकास मंच के जिलाध्यक्ष सुबोध तांती, गोरेलाल सिंह, मोहम्मद मुख्तार, राजकुमार शर्मा, अजय वर्मा,अशोक भारत, नकुल यादव, राजद नेता अरुण कुमार रंजन, प्रभाकर राम, शैलेश प्रजापति, सत्यजीत कुमार छोटू, मनोज क्रांति, मनीष यादव, मोहम्मद आजम, अमरशक्ति, जितेंद्र मंडल, सुरेश यादव, मनोहर साव, विजय मंडल, नीरज तांती, मुकेश तांती, सावित्री देवी, लक्ष्मी देवी, रामवती देवी, इंदिरा देवी, कविता कुमारी सहित सैकड़ों ग्रामीण उपस्थित थे।