सभी लिपिकों को भुगतान संबंधी मामले में तेजी लाने का निर्देश – जिलाधिकारी

108
0
SHARE

पटना – जिलाधिकारी कुमार रवि की अध्यक्षता में जिला में चल रहे विभिन्न भू-अर्जन परियोजनाओं की अद्यतन स्थिति की समीक्षा की गई। जिला भू-अर्जन पदाधिकारी एवं अपर जिला भू-अर्जन पदाधिकारियों के द्वारा विभिन्न भू-अर्जन परियोजनाओं की प्रगति की जानकारी जिलाधिकारी को दी गई। बैठक में जिलाधिकारी ने बिहटा सरमेरा रा0उ0पथ0 सं0-78 की समीक्षा के क्रम में जिला भू-अर्जन पदाधिकारी को निर्देश दिया कि बिहटा सरमेरा परियोजना में फतुहाॅ प्रखंड के मोईद्दीनपुर एवं कंचनपुर में मुआवजा भुगतान के मामले को एक सप्ताह में निष्पादित करें। फतुहां में बकास्त भूमि के स्थानांतरण का मामला लंबित है। बैठक में अंचलाधिकारी द्वारा बताया गया कि सभी प्रस्ताव अनुमंडल पदाधिकारी, पटना सिटी को भेजा गया है। जिलाधिकारी ने अनुमंडल पदाधिकारी पटना सिटी को मामले को शीघ्र निष्पादित करने का निर्देश दिया।

बैठक में जिलाधिकारी ने करजान एन.एच.-28 से ताजपुर एन.एच.-31 को जोड़ने वाली गंगा नदी पर पुल एवं पहुंच पथ के समीक्षा के क्रम में जिला भू-अर्जन पदाधिकारी को निर्देश दिया कि करजान ताजपुर पुल के सम्पर्क पथ में उत्पन्न विवाद में मुआवजा राशि प्राधिकार में जमा कर पुलिस बल के साथ दखल दिलाएँ। बिहटा सरमेरा रा0उ0पथ सं0-78 परियोजना के अंतर्गत अंचल बिहटा, नौबतपुर, फतुहाॅ एवं दनियावाॅ के 59 ग्रामों में कुल 740.45 एकड़ भूमि के लिए 534.43 करोड़ प्राक्कलित राशि में से 390 करोड़ आवंटन प्राप्त है जिसमें 374.73 करोड़ रुपये वितरित किया जा चुका है।

जिलाधिकारी ने बताया कि अथमलगोला अंचल के छः ग्रामों का कुल रकबा 72.76 एकड़ में प्राक्कलित राशि 52.45 करोड़ के विरूद्ध प्राप्त आवंटन 52.43 करोड़ में से 35.06 करोड़ का भुगतान किया जा चुका है। बाढ़ से बख्तियारपुर नई बड़ी रेल लाईन निर्माण की समीक्षा के क्रम में जिलाधिकारी ने बख्तियारपुर बड़ी रेल लाईन परियोजना में जमालपुर मौजा का स्टीमेट तैयार कर भेजने का अपर जिला भू-अर्जन पदाधिकारी को निर्देश दिया। बाढ़, बख्तियारपुर एवं अथमलगोला अंचलों के कुल सात ग्रामों में 19.99 एकड़ के लिए कुल 22.34 करोड़ रुपये का आवंटन प्राप्त है, जिसमें 09.20 करोड़ राशि वितरित की जा चुकी है। अमीन के पास मापी हेतु तीन आवेदन पत्र लंबित है, जिसे शीघ्र निष्पादित करने का निर्देश जिलाधिकारी ने अंचलाधिकारी को दिया।

बिहटा सैन्य हवाई अड्डा निर्माण परियोजना के समीक्षा के क्रम में जिलाधिकारी ने पाया कि 5 लाख से ऊपर 4 एवाडियों में से 4 आवेदन पत्र लंबित है। जिलाधिकारी ने अंचलाधिकारी बिहटा को अविलंब कैम्प लगाकर आवेदन पत्र प्राप्त करने तथा एक सप्ताह के अंदर भुगतान करने का निर्देश दिया। बिहटा सैन्य हवाई अड्डा परियोजना में जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि अमीन के स्तर पर लंबित दो आवेदन एवं कानूनगो के स्तर पर लंबित एक आवेदन को अंचलाधिकारी शीघ्र निष्पादित करें।

नेउरा-दनियावाॅ नई बड़ी रेल लाईन निर्माण परियोजना के समीक्षा के क्रम में जिलाधिकारी ने अपर जिला भू-अर्जन पदाधिकारी को निर्देश दिया कि पुनपुन प्रखंड में लखना में उत्पन्न विवाद को सुलझाने हेतु अनुमंडलाधिकारी से मिलकर धारा-107 के तहत कार्रवाई करने के साथ-साथ राशि प्राधिकार में जमा कर कार्रवाई करें। नेउरा-दनियावाॅ नई बड़ी रेल लाईन निर्माण परियोजना में अंचल पुनपुन, फुलवारीशरीफ, फतुहाॅ एवं दनियावाॅ के कुल 45 ग्रामों में से 44 ग्रामों के लिए प्राक्कलित राशि 127.09 करोड़ के विरूद्ध 117.39 करोड़ रुपये का आवंटन प्राप्त है, जिसमें 101.45 करोड़ रुपये का वितरण हो चुका है। मापी हेतु अमीन के पास 5 एवं कानूनगो के पास एक आवेदन पत्र लंबित है, जिसे शीघ्र निष्पादित करने का निर्देश जिलाधिकारी ने अपर जिला भू-अर्जन पदाधिकारी को दिया।

एन.टी.पी.सी. बाढ़ परियोजना के समीक्षा के क्रम में जिलाधिकारी ने पाया कि एन.टी.पी.सी. के पक्ष में 05 मौजा का भूमि का दाखिल-खारीज का कार्य लंबित है। जिलाधिकारी ने अंचलाधिकारी पंडारक को निर्देश दिया कि शीघ्र कार्रवाई कर दाखिल-खारीज के लंबित कार्यों को एक सप्ताह के अंदर निष्पादित करें। बैठक में एजेंसी द्वारा जिलाधिकारी को बताया गया कि मौजा सहनौरा में 14.78 एकड़ अर्जित भूमि, जो ड्रेनेज बनाया जाना है, उसे ग्रामीण द्वारा 20 प्रतिशत शेष राशि भुगतान नहीं होने के कारण बाधित किया जा रहा है। जिलाधिकारी ने जिला भू-अर्जन पदाधिकारी को शीघ्र भुगतान की कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

गंगा पथ निर्माण (दीघा से दीदारगंज) 21.5 कि0मी0 के समीक्षा के क्रम में जिलाधिकारी ने पाया कि कृष्णाघाट में सरकारी भूमि के हस्तांतरण का मामला अंचलाधिकारी के पास लंबित है। जिलाधिकारी ने अंचलाधिकारी को शीघ्र सरकारी भूमि का हस्तानांतरण से संबंधित मामले को निष्पादित करने का निर्देश दिया। बैठक में जिलाधिकारी ने पाया कि माननीय न्यायालयों में लंबित 41 मामलों में से 10 मामलों में प्रतिशपथ पत्र दायर किया जा चुका है। 10 मामलों में विवरणी प्रेषित की जा चुकी है। 21 मामलों में तथ्य विवरणी तैयार की जानी है। उन्होंने अंविलम्ब मामले को निष्पादित करने का निर्देश दिया।

जिलाधिकारी ने सभी लिपिकों को भुगतान संबंधी मामले में तेजी लाने का निर्देश दिया तथा यह भी निर्देश दिया कि कहीं भी सिंगल से ज्यादा सी.डब्लू.जे.सी. के मामले लंबित नहीं रहें। उन्होंने जिला भू-अर्जन पदाधिकारी को कार्यालय में प्राप्त पत्र का लगातार समीक्षा करने का निर्देश दिया। बैठक में जिलाधिकारी कुमार रवि के अलावे अपर समाहर्ता बजैन उद्दीन अंसारी, जिला भू-अर्जन पदाधिकारी प्रीतेश्वर प्रसाद, अपर जिला भू-अर्जन पदाधिकारी शाहिद परवेज, सभी परियोजना के प्रतिनिधि, सभी भूमि सुधार उप समाहर्ता एवं सभी अंचलाधिकारी उपस्थित थें।