सहरसा की जिलाधिकारी डॉ. शैलजा शर्मा ने प्राप्त किया सिल्वर अवार्ड

90
0
SHARE

सहरसा – आज मुम्बई में आयोजित 23वें राष्ट्रीय ई-गवर्नेंस सम्मेलन में जिला प्रशासन, सहरसा को लोक सेवाओं में ई-गवर्नेंस के माध्यम से नागरिकों को विभिन्न योजनाओं का लाभ पहुंचाने में उत्कृष्ट एवं नवाचारी योगदान के लिए सिल्वर अवार्ड प्रदान किया गया। जिसे सहरसा की जिलाधिकारी डॉ. शैलजा शर्मा ने प्राप्त किया।

राष्ट्रीय परिपेक्ष्य में ई-गवर्नेंस के लिए दिया जाने वाला यह पुरस्कार सहरसा जिला के लिए ही नहीं बल्कि बिहार राज्य के लिए एक बड़ी उपलब्धि एवं गर्व का विषय है।

ई-गवर्नेंस के क्षेत्र में विभिन्न श्रेणियों में उत्कृष्ट कार्य करने एवं नवाचारी प्रयोग के लिए कार्मिक, लोक शिकायत तथा पेंशन मंत्रालय,प्रशासनिक सुधार एवं लोक शिकायत विभाग, भारत सरकार तथा इलेक्ट्रॉनिक एवं सूचना प्रौद्योगिकी विभाग एवं निजी क्षेत्र के लिए कई श्रेणियों में पुरस्कार प्रदान करने के लिए चयन किया जाता है।

सहरसा जिला प्रशासन को राज्य/केंद्र शासित प्रदेशों में ई-गवर्नेंस के माध्यम से एंड टू एंड सर्विस डिलीवरी श्रेणी-3 में उत्कृष्ट एवं नवाचारी योगदान के लिए सिल्वर अवार्ड हेतु 15 सदस्यीय विशिष्ट पैनल जिसमें केंद्र सरकार के सचिव स्तर के पदाधिकारी, आईटी क्षेत्र के विशेषज्ञ विशिष्ट शैक्षणिक संस्थानों के प्रतिनिधियों के द्वारा चयन किया गया।