सात निश्चय से बदलेगा बिहार की सूरत: सीएम नीतीश

779
0
SHARE

बांका: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अपने निश्चय यात्रा के तहत आज बांका पहुंचे। बांका के बौंसी के सिंघेश्वरी गांव में सीएम ने शौचालय की स्थिति का जायजा लेने के बाद उन्होंने शराबबंदी को लेकर लोगों से उनकी राय ली। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जन चेतना सभा को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य सरकार हर गांव को स्मार्ट बनाना चाहती है।
उन्होंने कहा कि शिक्षा सबसे के लिए आवश्यक है। जो पढ़ेगा वही आगे बढ़ेगा। युवाओं पर सरकार की विशेष नजर है। युवओं के लिए प्रखंड स्तर पर कौशल केंद्र खोला गया है। उन्होंने बांका में एएनएम कॉलेज का शिलान्यास रखा।

कुशल युवा कार्यक्रम के प्रति युवाओं को रूझान बढ़ रहा है। अब किताब खरदीने की आवश्यतकता नहीं है। इसके लिए सकूल और कॉलेजों में वाई-फाई की मुफ्त सुविधा दी जाएगी।

पटना के अशोक राज पथ में यह सुविधा दी गई थी। ज्यादा लोग सिनेमा डाउनलोड करने लगे। यहां के युवा ऐसा नहीं करेंगे। वे इसका इस्तेमाल ज्ञान के लिए करेंगे। हर जिले में कॉलेज पारा मेडिकल कॉलेज खोले जा रहे है। पूरे राज्य में सात मेडिकल कॉलेज खोले जाएंगे। नर्सिंग कॉलेज की स्थापना की जा रही है। इससे रोजगार के अवसर पैदा होंगे।

लोक शिकायत निवारण अधिनियम को भी लागू किया गया है। इससे जनता को अधिकार मिला है। यदि आपकी कोई समस्या है तो वहां आवेदन दिजीए। आपके समस्या का समाधान होगा। दो लोगों की समस्या को हमने स्वंय देखा है।

इससे पहले मुख्यमंत्री ने कुडरो में जीविका की दीदीओं से भी मुलाकात की। उन्होंने कहा कि सात निश्चय से बिहार बदलेगा। युवाओं को रोजगार मिलेगा। महिलाओं की भागीदारी से विकसित समाज होगा। युवाओं की तरक्की से बिहार की तरक्की होगी। हम इसीलिए गंव गंव घूम कर सात निश्चय की योजनाओं का जायजा ले रहे है।

सीएम ने कहा की पेड़ की सुरक्षा से अब जीविका दीदी जुड़ेंगी। पांच साल में 24 करोड़ पेड़ लगाने का लक्ष्य है। इससे वन का 9 से 15 प्रतिशत किया जायेगा। इससे वन की संस्कृति भी बचेगी।

हर गांव में गलियों का निर्माण और पक्कीकरण करेंगे।
युवाओं को सबल बनाने के लिए पांच योजनाओं को चलाया
युवाओं को राजगार की तलाशने के लिए दो साल तक सरकार सहायता देगी।
हर जिले में परामर्श केंद्र खोला गया।
हर घर में नल का जल, हर घर शौचालय का लक्ष्य।
2018 तक हर घर में बिजली कनेक्शन देने का काम करेंगे।
बिहार का एक-एक गांव स्मार्ट होगा।
65 फीसदी आरक्षित होगा महिलाओं की सीट।
आज दो योजनाओं को लागू किया जा रहा है।
हर घर में शौचालय निर्माण पर सरकार गंभीर।